सूरजकुंड में चमका मध्‍यप्रदेश का शिव-राज

सूरजकुंड (हरियाणा)। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी पर भारी पड़े है। सूरजकुंड में भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी व राष्ट्रीय परिषद की बैठक में तीनों दिन मध्य प्रदेश की सरकार व संगठन की गूंज होती रही। आखिरी दिन तो पार्टी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी व पार्टी अध्यक्ष नितिन गडकरी ने चौहान को विकास पुरुष करार देते हुए उनका विशेष सम्मान भी किया।

खुले अधिवेशन में राष्ट्रीय परिषद के लगभग 1100 प्रतिनिधियों की मौजूदगी में आडवाणी ने शाल व प्रशस्ति पत्र से चौहान को सम्मानित किया। भाजपा में यह पहला मौका था जब पार्टी के किसी मंच पर नरेंद्र मोदी के बजाय किसी और राज्य के मुख्यमंत्री को इतना मान सम्मान मिला हो।

पार्टी ने बेहतर सरकार चला रहे मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को आगे बढ़ाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी। राष्ट्रीय परिषद ने कृषि विकास दर हासिल करने में कीर्तिमान बनाने व मध्य प्रदेश को देश का दूसरा सबसे बड़ा गेहूं उत्पादक राज्य बनाने के लिए विशेष सम्मान कर बाकी मुख्यमंत्रियों को संदेश भी दिया। शिवराज सरकार के लोक सेवा गारंटी कानून की भी गूंज हुई।

पार्टी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने मध्य प्रदेश की मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन समेत कई योजनाओं का उल्लेख किया। वरिष्ट नेता डॉ. मुरली मनोहर जोशी ने भी शिवराज सिंह की प्रशंसा करने में कोई कमी नहीं की। उन्होंने पार्टी का राजनीतिक प्रस्ताव पेश करते हुए कहा कि कोयला ब्लाक आबंटन में मध्य प्रदेश ने जो पारदर्शी नीति अपनाई अगर केंद्र सरकार उसे ही अपना लेती तो इतना बड़ा घोटाला नहीं होता। डॉ. जोशी इस घोटाले की जांच कर रही संसद की लोकलेखा समिति के अध्यक्ष भी है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here