सृजनात्मक कार्यशाला में 190 स्कूली बच्चे शामिल हुए

भोपाल, अक्टूबर 2015/ वन्य-प्राणी सप्ताह में आज वन विहार में सृजनात्मक कार्यशाला में 190 बच्चों ने भाग लिया। बच्चों को जवाहर बाल भवन के श्री विनय सप्रे ने रंगीन कागज के विभिन्न प्रकार के फूल और प्राणियों की आकर्षक आकृतियाँ बनाना सिखाया। बच्चों ने उमंग और उत्साह के साथ आकृतियाँ बनाई।

विहार वीथिका में आज कक्षा 9 से 12वीं तक के छात्र-छात्राओं ने प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता के सेमी फाइनल में भाग लिया। फाइनल में चार टीम पहुँची थीं। सप्ताह के अंतिम पक्षी अवलोकन शिविर में आज 230 प्रतिभागी ने पक्षी व्यवहार, भोजन, विशेषताएँ, प्रकृति में योगदान आदि के बारे में जाना। पक्षी-प्रेमियों ने फेनटेल फ्लाई केचर, दूधराज, चातक, पपीहा, नाइट हेरॉन, रेड वेंटेड बुलबुल, धनेश, ललमुनिया, रॉबिन, पाइड किंग-फिशर, इंडियन रोलर, ग्रीन बी ईटर, बार्न स्वेलो आदि पक्षी को पहचानना सीखा।

पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव के मुख्य आतिथ्य और वन मंत्री श्री गोरीशंकर शेजवार की अध्यक्षता में कल 12 बजे सप्ताह का समापन होगा। इसके पहले सुबह 9.30 बजे से स्कूली बच्चों के लिए फैंसी ड्रेस और 11 बजे से खुला मंच प्रतियोगिता होगी। सप्ताह की प्रतियोगिताओं के विजेताओं और वन्य-प्राणी संरक्षण क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों को समापन समारोह में पुरस्कृत किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here