स्वस्थ रहने के लिये योग-व्यायाम आवश्यक

भोपाल, जनवरी 2015/ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि जीवन में बड़ा काम करने और आगे बढ़ने के लिये शरीर का स्वस्थ रहना सबसे जरूरी है। शरीर को स्वस्थ रखने के लिये व्यायाम और योग आवश्यक है। मुख्यमंत्री यहाँ बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बैरागढ़ में सामूहिक सूर्य नमस्कार कार्यक्रम में संबोधित कर रहे थे।

श्री चौहान ने कहा कि स्वामी विवेकानंद कहते थे दुनिया में ऐसा कोई काम नहीं है जो मनुष्य नहीं कर सकता। मनुष्य का जीवन व्यर्थ गँवाने के लिये नहीं है। इसका बेहतर उपयोग होना चाहिये। उन्होंने कहा कि सूर्य नमस्कार ऐसा व्यायाम है जिसमें शरीर के सभी अंगों का व्यायाम होता है और शरीर स्वस्थ रहता है। स्कूली बच्चे योग का महत्व समझे इसी उद्देश्य से सामूहिक सूर्य नमस्कार का कार्यक्रम आयोजित किया गया है। आज पश्चिम भी योग के महत्व को स्वीकार रहा है। संयुक्त राष्ट्र संघ ने प्रधानमंत्री श्री मोदी की पहल पर 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने की घोषणा की है। बच्‍चे शरीर को स्वस्थ रखने के लिये प्रतिदिन योग और प्राणायाम करें।

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने बच्चों को बताया कि वे स्वयं प्रतिदिन सूक्ष्म व्यायाम, सूर्य नमस्कार और प्राणायाम करते हैं। उन्होंने शरीर के विभिन्न अंगों के लिये आवश्यक सूक्ष्म व्यायाम किया तथा बच्चों को इसका महत्व समझाया। इसके बाद उन्होंने बच्चों के साथ सूर्य नमस्कार और प्राणायाम भी किया। कार्यक्रम में बाल केबिनेट के पदाधिकारी श्री सोनू पटेल और आरती रजक ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया। वंदे-मातरम् और मध्यप्रदेश गान प्रस्तुत किया गया। कार्यक्रम में विधायक रामेश्वर शर्मा, नानकराम वाधवानी, अपर मुख्य सचिव स्कूल शिक्षा एस.आर.मोहंती, राज्य शिक्षा केन्द्र आयुक्त रश्मि अरूण शमी और आयुक्त लोक शिक्षण डी.डी.अग्रवाल भी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here