सड़क मरम्मत की दीर्घकालिक योजना बने: मुख्यमंत्री

भोपाल, सितम्बर  2014/ मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने यहाँ लोक निर्माण विभाग और विभाग अर्न्तगत संचालित परियोजना क्रियान्वयन इकाई की समीक्षा करते हुए कहा कि प्रदेश की सभी सड़कें दुरूस्त रहें। उनकी नियमित मरम्मत होती रहे। इसकी दीर्घकालिक योजना बनाई जाय ताकि कार्यों में अनावश्यक विलम्ब नही हो और वे समय-सीमा में पूर्ण हो। समीक्षा के दौरान लोक निर्माण मंत्री सरताज सिंह, मुख्य सचिव अंटोनी डिसा भी मौजूद थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी गांवों को सड़कों से जोड़ना है। इसके लिये ग्रामीण विकास विभाग और लोक निर्माण विभाग अन्तर्गत संचालित योजनाओं की समग्र कार्य योजना बनाई जायें। निर्माण विभाग तेजी से कार्य करने की नई संस्कृति विकसित करे। उत्कृष्ट कार्य करने वाले कर्मचारियों को पुरस्कृत करने के मापदण्ड बनाए जाएं।

मुख्यमंत्री युवा इंजीनियर कांट्रेक्टर योजना के तहत 425 इंजीनियरों का प्रशिक्षण पूर्ण होने की जानकारी दी गई। यह बताया गया कि विभाग द्वारा प्रशिक्षण अवधि को 6 माह के स्थान पर 3 माह करने, सी-श्रेणी में पंजीयन शुल्क दस हजार रूपये से घटाकर 2 हजार रूपये तथा डिपॉजिट राशि 2 लाख से घटाकर 25 हजार रूपये करने और अर्नेस्ट मनी में प्रथम तीन वर्षों में 50 प्रतिशत की छूट देने के संशोधनों का प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है। इस अवसर पर विश्रामगृहों की संचालन व्यवस्था को और अधिक बेहतर बनाने। उसका वाणिज्यिक उपयोग करने संबंधी प्रस्तावों पर भी चर्चा की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here