11 हजार टन प्लास्टिक कचरा सीमेंट क्लिन में जलाया

भोपाल, दिसम्बर 2015/ मध्यप्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा प्लास्टिक अपशिष्ट निष्पादन के लिए नगर निगम/नगर पालिका/नगर पंचायत के संयुक्त तत्वावधान में प्रदेश भर में विभिन्न स्थान पर छापामार कार्यवाही कर अमानक स्तर की पॉलिथीन जप्त की जा रही है। बोर्ड क्षेत्रीय कार्यालयों के जरिये विभिन्न स्थान पर जन-जागरूकता कार्यक्रमों में रैली, चित्रकला प्रतियोगिता, प्रदर्शनी, नुक्कड़-नाटक, सेमीनार, कार्यशाला जैसे कार्यक्रम करता है।

वर्ष 2009-10 से प्लास्टिक कचरे का सीमेंट क्लिन में कोयले के साथ सहदहन की व्यवस्था की गई है। वर्तमान में सात सीमेंट उद्योग में यह व्यवस्था है। वर्ष 2014-15 तक लगभग 11 हजार मी. टन प्लास्टिक कचरे का सीमेंट क्लिन में सहदहन किया जा चुका है। वर्ष के दौरान कबाड़ियों एवं अन्य स्वयंसेवी संस्थाओं के माध्यम से एकत्रित लगभग 3,200 मी. टन प्लास्टिक कचरे को सीमेंट क्लिन द्वारा सहदहन किया गया है। इससे परोक्ष रूप से लगभग 8,000 मी. टन कोयले की बचत संभव हो सकी है।

प्लास्टिक नियमों को प्रभावशाली ढंग से लागू करने के लिए राज्य शासन की मदद से प्रदेश के सभी जिलों में जिला प्रकोष्ठों का गठन किया गया है। इससे अमानक पॉलिथीन केरीबेग के प्रचलन को नियंत्रित करना अधिक प्रभावी हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here