15 करदाताओं को भामाशाह सम्मान

इंदौर, 02 जूनः वित्त एवं वाणिज्य कर मंत्री श्री राघवजी ने आज यहाँ आयोजित एक गरिमामय समारोह में इंदौर संभाग के पाँच जिलों के 15 करदाताओं को सर्वाधिक कर जमा करने पर भामाशाह सम्मान से सम्मानित किया। समारोह की अध्यक्षता इंदौर जिले के प्रभारी तथा पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपाल भार्गव ने की । इस अवसर पर सांसद श्रीमती सुमित्रा महाजन, विधायक श्रीमती मालिनी गौड़, श्री शंकर लालवानी तथा वाणिज्यिक कर आयुक्त श्री अमित राठौर विशेष रूप से मौजूद थे।

 

समारोह को सम्बोधित करते हुये वित्त मंत्री श्री राघवजी ने भामाशाह पुरस्कारों की स्थापना की पृष्ठभूमि पर प्रकाश डालते हुए बताया कि वाणिज्यिक कर विभाग ईमानदार करदाताओं की कठिनाइयों के निराकरण के प्रति सदैव तत्पर है। कर प्रणाली के सरलीकरण की दिशा में मध्यप्रदेश पूरे देश में अग्रणी राज्य बन गया है।

 

 

मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान की मंशानुरूप स्वकर निर्धारण योजना को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जा रही है। विभाग की कोशिश है कि अधिकतम व्यवसायी स्वकर निर्धारण संबंधी प्रावधानों का लाभ लें, समय पर कर व रिटर्न प्रस्तुत कर पात्रता सीमा में आये।

 

यह सर्वविदित है कि कर अपवंचन में संलग्न कुछ मुठ्ठीभर व्यवसाइयों के कारण राजस्व में क्षति होने के अलावा सर्वाधिक परेशानी ईमानदारी से व्यवसाय करने वालों को होती है। हम सीमित संसाधनों के बावजूद कर अपवंचन की रोकथाम की दिशा में अहर्निश तत्पर है। करदाताओं को अधिकाधिक सुविधाएँ देने के मामले में हमारी कोशिशे लगातार जारी हैं।

 

प्रदेश के विकास में करदाताओं का भरपूर सहयोग व समर्थन मिला है। इसी का परिणाम है कि प्रदेश में सड़कों के जाल बिछाने तथा ग्रामीणों को 24 घण्टे विद्युत प्रदाय करने के लिये फीडर सेपरेशन जैसी मूलभूत विकास की योजनाओं को मूर्तरूप देने में ममद मिल रही है । प्रदेश में मूलभूत सुविधाओं के विकास में धनराशि की कमी नहीं आने दी जायेगी।

 

गत वर्ष 2011-12 के राजस्व में पूर्ववर्ती वर्ष की तुलना में 21 प्रतिशत से अधिक वृद्धि रही है। इस प्रकार राजस्व वृद्धि के मामले में मध्यप्रदेश देश के अग्रणी राज्यों की बराबरी की ओर अग्रसर है। राजस्व में यह वृद्धि प्रकारान्तर से प्रदेश के व्यापार, व्यवसाय एवं उद्योगों के विकास तथा कराधान संबंधी नीतियों के प्रति व्यवसाय जगत के बढ़ते विश्वास का घोतक है। श्री राघवजी ने कहा कि छोटे करदाताओं को भी सम्मानित करने की योजना पर कार्य किया जा रहा है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here