23 जिलों में रेत खदानों की ई-नीलामी प्रक्रिया

भोपाल, जुलाई  2015/ खनिज साधन विभाग 23 जिलों में रेत खदानों की नीलामी ई-नीलामी से करवाने जा रहा है। संबंधित जानकारी एवं प्रशिक्षण देने के लिए वीडियो कान्फ्रेंस आयोजित की गयी। इसमें कलेक्टर एवं जिलों के खनि अधिकारियों को ई-नीलामी प्रक्रिया से अवगत करवाया गया।

श्री शिवशेखर शुक्ला सचिव खनिज साधन ने बताया कि प्रदेश के 16 जिले में मध्यप्रदेश खनिज निगम 6 चरण में 180 रेत खदान की ई-नीलामी सफलता से कर चुका है। पूरी प्रक्रिया का संचालन पारदर्शिता से हुआ। किसी भी ठेकेदार को कोई कागजी कार्यवाही नहीं करना पड़ी। खनिज निगम को पूर्व में नीलामी से 251 करोड़ ही अधिकतम प्राप्त होते थे, जबकि ई-नीलामी से 954 करोड़ प्राप्त हो चुके हैं। ई-नीलामी की प्रक्रिया के परिणाम उत्साहवर्धक रहे है। अब 23 जिलों में ई-नीलामी प्रक्रिया खनिज साधन विभाग, कलेक्टर एवं जिला खनि अधिकारियों के माध्यम से करेगा।

मध्यप्रदेश स्टेट इलेक्ट्रॉनिक डेव्हलपमेंट कार्पोरेशन के प्रबंध संचालक एम. सेलवेन्द्रन ने ई-नीलामी की प्रक्रिया तथा संचालक भौमिकी तथा खनिकर्म श्री विनीत आस्टिन ने मध्यप्रदेश गौण खनिज नियम 1996 में संशोधनों से कलेक्टरों को अवगत करवाया।

सीहोर कलेक्टर सुदाम खाण्डे ने ”सीहोर जिले में रेत खदानों के समुचित प्रबंधन एवं संचालन संबंधी कार्य-योजना” बताते हुए कहा कि खनिज निगम को रेत की ई-नीलामी से सीहोर जिले से 300 करोड़ प्राप्त हुए हैं। जिले में रेत परिवहन रजिस्टर्ड वाहनों एवं चिन्हित सड़कों पर ही किया जायेगा। रेत खदानों से जुड़े लोगों का डाटाबेस तैयार किया जायेगा।

खनिज साधन विभाग 23 जिले में रेत खदानों की नीलामी ई-आक्शन से करेगा। नीलामी की सम्पूर्ण प्रक्रिया को समक्षने एवं शंकाओं का समाधान करने के लिए 07 जुलाई को प्रातः 10:30 से 02:00 बजे तक प्रशासन अकादमी शाहपुरा, भोपाल में नीलामी पूर्व बैठक होगी। इसमें जिले के खनि अधिकारी एवं इच्छुक व्यक्ति/बोलीदार निःशुल्क भाग ले सकेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here