42 जिलों में भूमि नक्शों का डिजिटाईजेशन

भोपाल, मई 2013/ राज्य शासन द्वारा नेशनल लेण्ड रिकार्ड मार्डनाइजेशन प्रोग्राम के तहत सभी जिलों में भूमि नक्शों का डिजिटाइजेशन और खसरा/नक्शा लिंकिंग कार्य किया जा रहा है। अप्रैल, 2008 से प्रारंभ इस योजना के तहत 42 जिलों में भूमि नक्शा डिजिटाइजेशन और नक्शा लिंकिंग कार्य पूरा कर लिया गया है। इनमें से 33 जिलों के लिंक्ड खसरा-नक्शा वेब पर भी होस्ट हो चुके हैं। शेष 8 जिलों- गुना, अशोकनगर, देवास, खण्डवा, खरगोन, बड़वानी, पन्ना और दमोह में यह कार्य प्रगति पर है।

राजस्व मंत्री करण सिंह वर्मा ने बताया कि कम्प्यूटराइज्ड खसरा एवं डिजिटाईज्ड नक्शे के ए-4 साइज पर खसरा का प्रिंट उपलब्ध करवाने के लिये एनआईसी द्वारा भू-नक्शा सॉफ्टवेयर (3R4B2) तैयार किया गया है। लिंकिंग से पूर्ण जिले जिनके नक्शे वेब पर हैं वे हैं श्योपुर, मुरैना, भिण्ड, ग्वालियर, शिवपुरी, शाजापुर, मंदसौर, नीमच, उज्जैन, इंदौर, धार, अलीराजपुर, झाबुआ, बुरहानपुर, भोपाल, सीहोर, रायसेन, राजगढ़, विदिशा, बैतूल, होशंगाबाद, हरदा, सागर, छतरपुर, टीकमगढ़, जबलपुर, नरसिंहपुर, छिन्दवाड़ा, सिवनी, डिण्डोरी, रीवा, सीधी और सतना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here