कैलाश का शाहरुख पर निशाना, यह रईस किस काम का

फिल्म अभिनेता शाहरुख खान की नई फिल्म ‘रईस’ के रिलीज होने से पहले भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने एक बार फिर उन्हें अपने निशाने पर लिया है। शाहरुख का नाम लिए बगैर फेसबुक और ट्विटर पर विजयवर्गीय ने अपनी पोस्ट में ‘रईस’ को बेईमान बताते हुए कहा कि जो ‘रईस’ देश का नहीं, वह किसी काम का नहीं। अप्रत्यक्ष तौर पर उन्होंने लोगों से ‘रईस’ के बहिष्कार की अपील की है।

विजयवर्गीय ने शनिवार रात अपने ट्विटर अकाउंट पर एक तस्वीर पोस्ट की जिसमें एक तरफ उनका खुद का फोटो है और दूसरी तरफ तिरंगे की तस्वीर के साथ लिखा है, ‘प्रधानमंत्री मोदी जी ने नोटबंदी कर, कालेधन वाले रईसों को जमीन पर ला दिया। अब बारी देश की काबिल जनता की है। जो ‘काबिल’ है, उसका हक कोई बेईमान रईस न छीन पाए।’ इसके साथ ही अपनी पोस्ट में उन्होंने ‘रईस’ और ’काबिल’ की तुलना करते हुए लिखा है, कि जो ‘रईस’ देश का नहीं, वो किसी काम का नहीं। और एक ‘काबिल’ देशभक्त का साथ, तो हम सभी को देना ही चाहिए।’ गौरतलब है कि शाहरुख की ‘रईस’ और रितिक रोशन की ‘काबिल’ दोनों की फिल्में 25 जनवरी को रिलीज हो रही हैं।

साफ है कि विजयवर्गीय ने अप्रत्यक्ष तौर पर लोगों से अपील की है कि वे शाहरुख की ‘रईस’ के बजाय रितिक रोशन की ‘काबिल’ देखने जाएं। उनकी यह पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। कुछ लोग उनकी बात का समर्थन कर रहे हैं, तो उनकी अपील खारिज करने वाले भी कम नहीं। विजयवर्गीय इसके पहले भी शाहरुख को लेकर विवादित बयान दे चुके हैं। उन्होंने कहा था कि शाहरुख का मन पाकिस्तान में रहता है। हालांकि बवाल बढ़ने पर उन्होंने अपना ट्वीट हटा दिया था।

गौरतलब है कि शाहरुख ने 2015 में कथित असहिष्णुता के मुद्दे को लेकर कहा था कि देश में असहिष्णुता बढ़ी है। हालांकि बाद में उन्होंने माफी भी मांग ली थी। लेकिन बयान के बाद से ही वे भाजपा नेताओं के निशाने पर आ गए थे। उसी साल रिलीज हुई उनकी फिल्म ‘दिलवाले’ और फिर 2016 में रिलीज हुई ‘फैन’ का विरोध करने की अपील सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुई थी। अब ‘रईस’ की रिलीज से पहले भी कैलाश विजयवर्गीय ने इसी तरह की अपील करने की कोशिश की है।

उल्लेखनीय है कि फिल्म अभिनेता आमिर खान भी असहिष्णुता को लेकर दिए गए बयान के चलते कैलाश विजयवर्गीय के निशाने पर आए थे। उस वक्त विजयवर्गीय ने ‘दंगल का मंगल’ करने की चेतावनी भी दी थी, पर जब फिल्म रिलीज हुई तो विजयवर्गीय ने उसका कोई विरोध नहीं किया। फिल्म ने कमाई के कई रिकॉर्ड तोड़ दिए।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here