अंतर्राष्ट्रीय हार्टी एक्सपो 1-3 फरवरी को भोपाल में

भोपाल, जनवरी 2013/ मध्यप्रदेश के उद्यानिकी किसानों को राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय-स्तर पर उपलब्ध नवीनतम तकनीकों से अवगत करवाने और उत्पादों के विक्रय तथा प्रदर्शन के लिये भोपाल के भेल दशहरा मैदान पर एक से तीन फरवरी तक इंटरनेशनल हार्टी एक्सपो-2013 का आयोजन किया जा रहा है।

एक्सपो में उद्यानिकी और उद्यानिकी को प्रभावित करने वाले सभी घटकों की निर्माता कम्पनियों को अपने उत्पाद प्रदर्शित करने के लिये आमंत्रित किया गया है। किसानों को उनकी फसलों के बारे में जानकारी देने के लिये सभी विधाओं के विशेषज्ञ भी बुलाये गये हैं। यह विशेषज्ञ सेमीनार-संगोष्ठी में सतत् जानकारी देंगे। सेमीनार में उद्यानिकी किसानों को आने वाली समस्याओं पर भी विस्तार से चर्चा की जायेगी।

हार्टी एक्सपो में उद्यानिकी में उपयोग किये जाने वाले आवश्यक उपकरणों, कीट-नाशक, खाद-बीज आदि के विक्रय की व्यवस्था भी रहेगी। प्रदर्शनी में प्रदेश के सफल उद्यानिकी किसानों की सफलता की कहानियाँ भी प्रदर्शित की जायेगी। इसमें उद्यानिकी क्षेत्र के सफल किसानों को भी बुलाया गया है, जो अपने अनुभव अन्य किसानों के साथ बाँटेंगे।

उद्यानिकी संचालनालय द्वारा किये जा रहे हार्टी एक्सपो में किसानों, उत्पादकों, शोध और विकास संस्थानों, सब्जी व्यापारियों, जैविक खेती में संलग्न एजेंसियों, प्र-संस्करणकर्ताओं, तकनीकी प्रदायकों, निर्यातकों, आदान प्रदायकों, उपकरण और मशीनरी निर्माताओं तथा सलाहकारों की भी भागीदारी रहेगी।

हार्टी एक्सपो में प्रदेश तथा बाहर के 10 हजार किसान रोजाना भाग लेंगे। भारत और विदेश के 100 प्रदर्शनकर्ता भी इसमें शिरकत करेंगे। इसके अलावा 300 वन-टू-वन बैठक होंगी, अंतर्राष्ट्रीय-स्तर के विशेषज्ञों के व्याख्यान होंगे और संगोष्ठी में 400 से अधिक लोग भागीदारी करेंगे। साथ ही नर्सरी डेव्हलपर्स, केन्द्र और राज्य सरकार के संगठनों के प्रतिनिधि, कीट-नाशक कम्पनियों के प्रतिनिधि, डीलर्स, डिस्ट्रीब्यूटर्स, उद्यमी, कृषि विज्ञान केन्द्रों के प्रमुख, बीज प्रमाणीकरण एजेंसियाँ, विश्वविद्यालयों तथा शोध संस्थानों के प्रतिनिधि, बैंकर्स, निवेशक और अन्य संबंधित लोग भी हार्टी एक्सपो में शिरकत करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here