अजा वर्ग को रोजगार के लिए निःशुल्क प्रशिक्षण

भोपाल, सितंबर 2014/ प्रदेश में अनुसूचित जनजाति वर्ग के शिक्षित बेरोजगारों को विभिन्न उद्योगों में रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के उद्देश्य से संचालित निःशुल्क आवसीय प्रशिक्षण योजना के तहत भोपाल में तीन दिवसीय काउसलिंग एवं चयन शिविर आयोजित किया जायेगा। यह शिविर मध्यप्रदेश रोजगार एवं प्रशिक्षण परिषद के कार्यालय में आयोजित होगा। प्रशिक्षणार्थियों को बस अथवा द्वितीय श्रेणी रेलवे का आने–जाने का सामान्य किराया टिकिट प्रस्तुत करने पर दिया जायेगा। इसके अलावा चयनित प्रशिक्षणार्थियों को आवास, भोजन और स्टाइपेंड की सुविधा भी मुहैया करायी जायेगी। यह जानकारी आदिमजाति एवं अनुसूचित जाति कल्याण मंत्री ज्ञानसिंह ने यहां दी।

16 सितम्बर के शिविर में श्योपुर, मुरैना, भिण्ड, ग्वालियर, शिवपुरी, गुना, अशोकनगर, दतिया, रीवा, सिंगरौली, सीधी, सतना, उमरिया, शहडोल, अनुपपुर और आगर–मालवा के युवाओं को काउसलिंग से प्रशिक्षण के लिये चुना जायेगा। ऐसा दूसरा शिविर में 17 सितम्बर को देवास, रतलाम, शाजापुर, मंदसौर, नीमच, उज्जैन, इंदौर, धार, अलीराजपुर, झाबुआ, खरगौन, बडवानी, खण्डवा, बुरहानपुर, सागर, दमोह, पन्ना, छतरपुर और टीकमगढ़ में होगा। इसी तरह तीसरा शिविर 18 सितम्बर को जबलपुर, कटनी, नरसिंहपुर, छिन्दवाड़ा, सिवनी, मण्डला, बालाघाट, डिण्डौरी, भोपाल, सीहोर, रायसेन, राजगढ़, विदिशा, होशंगाबाद, बैतूल और हरदा में होगा।

आवेदक अपने आवेदन पत्र महाप्रबंधक, मध्यप्रदेश रोजगार एवं प्रशिक्षण परिषद (मैपसेट), राजीव गांधी भवन, 35, श्यामला हिल्स, भोपाल को भेज सकते हैं। आवेदन पत्र में फोटो के साथ कोर्स का नाम, आवेदक का नाम, पिता का नाम, पता, मोबाइल अथवा फोन नम्बर, जन्मतिथि, वर्ग एवं जाति शैक्षणिक योग्यता, व्यवसायिक योग्यता और प्रशिक्षण संस्था/उद्योग का नाम का उल्लेख करें। प्रशिक्षण के उपरांत चयन के समय आवेदक को शैक्षणिक योग्यता, जाति, मूलनिवासी, पहचान-पत्र और आय प्रमाण-पत्र प्रस्तुत करने होगें। आवेदक की आयु 18 से 30 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

टॉवल/कपड़ा वीविंग, टेक्सटाईल, ऑटोमोबाइल (कार, बस, ट्रक के पार्ट्स तथा उनकी बॉडी के मेटल पार्ट जैसे दरवाजा, बोनट इत्यादि एवं उत्पादन कार्य), प्लास्टिक सामग्री निर्माण, कम्प्यूटर हार्डवेयर रिपेयर एण्ड मेंटनेन्स, कम्प्यूटर एप्लीकेशन, कम्प्यूटर से कार्टून फिल्म, विज्ञापन फिल्म का निर्माण, इंडस्ट्रीयल वायरमेंन, मार्केटिंग सेल्स कार्य इत्यादि के प्रशिक्षण कार्यक्रमों के पृथक-पृथक कोर्स हैं। जिसमें कक्षा 5वीं से इंजीनियरिंग स्नातक तक शिक्षित अनुसूचित जनजाति वर्ग के आवेदक प्रशिक्षण ले सकते हैं।

आई.डी.ई.एम.आई. मुम्बई, आई.जी.टी.आर. इन्दौर/औरगांबाद और सीपेट भोपाल द्वारा निःशुल्क प्रशिक्षण दिया जायेगा। प्रशिक्षण के बाद प्रतिभा सिन्टैक्स पीथमपुर, जे.बी.एम. फरीदाबाद और ट्रायडेंट बुदनी में रोजगार दिलाया जायेगा। आवेदक अधिक जानकारी के लिये कार्यलय समय में दूरभाष क्रमांक 0755-2661215 अथवा e-mail:gmmapcet@yahoo.com पर भी संपर्क कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here