अमरकंटक से शुरू होगा नर्मदा को प्रदूषणमुक्त करने का अभियान

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा है कि पुण्य-सलिला नर्मदा नदी को प्रदूषणमुक्त करने के लिए जनसहयोग से अभियान चलाया जायेगा। यह अभियान देवउठनी ग्यारस से नर्मदा नदी के उद्गम स्थल अमरकंटक से प्रारंभ होगा। उन्होंने घोषणा की कि मालवा के सभी क्षेत्रों तक नर्मदा का पानी पहुँचाया जायेगा। इसके लिये व्यापक कार्ययोजना तैयार की जा रही है। इससे मालवा के आठ लाख हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई और पीने का पानी मिलेगा। उद्योगों के लिये भी जल प्रदाय किया जायेगा। इस योजना को पूर्ण करने में धनराशि की कमी नहीं आने दी जायेगी।

मुख्यमंत्री इंदौर नगर पालिक निगम द्वारा बिचौली हप्सी में 30 एकड़ क्षेत्र में विकसित किये जाने वाले शहरी वन विहार एवं जैव विविधता पार्क (सिटी फारेस्ट) के शुभारंभ समारोह में बोल रहे थे। पार्क साढ़े 5 करोड़ रुपये की लागत से विकसित होगा। इस मौके पर उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री कैलाश विजयवर्गीय, स्वास्थ्य राज्य मंत्री महेन्द्र हार्डिया, सांसद श्रीमती सुमित्रा महाजन, महापौर कृष्णमुरारी मोघे, विधायकगण सहित अन्य जन-प्रतिनिधि मौजूद थे ।

मुख्यमंत्री ने कहा कि नर्मदा नदी मध्यप्रदेश की जीवन रेखा है। इसे किसी भी हाल में प्रदूषण से बचाया जायेगा। मालवा में लगातार जल-स्तर गिरना चिंता का विषय है। नर्मदा का जल मालवा के हर क्षेत्र में पहुँचाया जायेगा। इसके लिये व्यापक योजना तैयार की जा रही है।  उन्होंने नागरिकों से अपील की कि प्रदेश विशेषत: मालवा में अधिक से अधिक वृक्षारोपण करें तथा जल-संरक्षण और जल-संवर्धन के कार्य करवाये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here