अवैध कालोनियों को वैध किया जाएगा : मुख्यमंत्री

इंदौर, जनवरी 2013/ मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने इंदौर में विधायक जनता के द्वार कार्यक्रम में कहा कि प्रदेश में अब गरीब परिवारों के बच्चों को पहली कक्षा से छात्रवृत्ति दी जाएगी। प्रदेश में अवैध कालोनियों को वैध किया जाएगा तथा इंदौर के बाणगंगा क्षेत्र में बनने वाले अस्पताल के लिये इसी वर्ष वित्तीय स्वीकृति दी जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि विधायक जनता के द्वार कार्यक्रम लगातार चलना चाहिए। उन्होंने देश की सीमा पर सैनिकों के सिर काटे जाने की घटना को अमानवीय बताया। कहा कि शहीदों की पूजा होना चाहिए। बताया कि पिछले दिनों शहीद हुए रतलाम के श्री चम्पालाल मालवीय के परिवारजन को चालीस बाय साठ फीट का प्लाट एवं 15 लाख रूपये की सम्मान-निधि दी गयी है। शहीद की स्मृति में स्मारक भी बनाया जाएगा ।

श्री चौहान ने कहा कि हमारा प्रयास है कि मध्यप्रदेश को देश का नम्बर-एक राज्य बनाया जाए। जन-प्रतिनिधियों को जन-कल्याणकारी योजनाओं और कार्यक्रमों के क्रियान्वयन की मानिटरिंग करना चाहिए। पैसे के अभाव में किसी भी गरीब के बच्चे को पढ़ने से वंचित नहीं रहने दिया जाएगा । सभी वर्गों के बच्चों को शिक्षा ऋण प्रदान किया जाएगा और शिक्षा ऋण की ग्यारंटी राज्य शासन देगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में महिलाओं के साथ छेड़छाड़ करने वालों को किसी भी हालत में बक्शा नहीं जाएगा। छेड़छाड़ करने वालों का डाटाबेस तैयार किया जा रहा है। दोषी लोगों के ड्रायविंग लायसेंस, पासपोर्ट सहित अन्य दस्तावेज नहीं बनाये जायेंगे। उन्हें सरकारी नौकरी भी नहीं दी जाएगी। छेड़छाड से संबंधित पंजीबद्ध प्रकरणों का निराकरण निर्धारित समय-सीमा में किया जाएगा। मध्यप्रदेश में रिटेल क्षेत्र में एफडीआई को नहीं आने दिया जाएगा। माता-पिता को भोजन नहीं कराने वालो को सजा दिलायी जाएगी।

कार्यक्रम में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष तथा सांसद नरेन्द्रसिंह तोमर ने कहा कि विधायक जनता के द्वार कार्यक्रम अनूठा अभियान है। इससे नयी आशा एवं उर्जा का संचार हुआ है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here