आडवाणी ने शिवराज की तुलना अटल से की

ग्‍वालियर, जून 2013/ भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व उपप्रधानमंत्री श्री लालकृष्ण आडवाणी ने कहा कि देश के चार हिन्दी भाषी राज्यों को उनके पिछड़ेपन के कारण बीमारू राज्य कहा जाता था। लेकिन भारतीय जनता पार्टी ने सत्ता में आने के बाद पिछड़ेपन से मुक्ति दिलाकर विकास के चक्र को तीव्र गति दी है। इसी का परिणाम है कि मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, उत्तराखंड, बिहार में विकास की दर नये क्षितिज पर पहुंची है।

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के गतिशील नेतृत्व की सराहना करते हुए श्री आडवाणी ने उनका अभिनंदन किया और कहा कि श्री चौहान ने प्रदेश में बिना भेदभाव के जिस तरह जीवन के हर क्षेत्र के मर्म को छुआ है और रागात्मक संबंध बनाकर सामाजिक सरोकार परिभाषित किया है वह अनुकरणीय है।

नगर-ग्राम केन्द्रों के पालकों और संयोजकों के महाअधिवेशन में श्री आडवाणी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटलबिहारी वाजपेयी का जिक्र करते हुए कहा कि वे अहंकार से परे रहे, उनकी छत्रछाया में मैंने राजनैतिक जीवन में बहुत कुछ सीखा और हासिल किया। इसी तरह निरहंकारी व्यक्ति के रूप में मैं शिवराज सिंह चौहान को देखता हूं। गुजरात में नरेन्द्र मोदी ने जिस तरह से प्रगति का अध्याय लिखा है, मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह चौहान एवं छत्तीसगढ़ में डॉ. रमन सिंह ने भी उल्लेखनीय कार्य किया है

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here