आदिम जातियों के कल्‍याण कार्यक्रमों की समीक्षा होगी

भोपाल, सितंबर 2013/ भारतीय जनता पार्टी के अनुसूचित जनजाति मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष गजेन्द्रसिंह पटेल ने बताया कि अंतवर्ती जनजाति बहुल क्षेत्रों में निवास करने वाली पिछडी हुई अनुसूचित जनजातियों के सम्मेलनों में उनके लिए संचालित सामाजिक, आर्थिक कार्यक्रमों की समीक्षा की जायेगी और आवश्‍यकतानुसार आगामी कार्ययोजना पर विचार किया जायेगा।

श्री पटेल ने बताया कि 30 सितंबर को बैगा जनजाति के सम्मेलन की शहडोल में तैयारियां की जा रही है जिसमें विभिन्न अंचलों में फैले बैगाओं की समस्याओं पर विचार किया जायेगा। इसके पहले 29 सितंबर को छिंदवाडा के तामिया में भारिया जनजाति का सम्मेलन होगा। ग्वालियर चंबल अंचल में निवास कर रहे सेहरिया समुदाय का सम्मेलन कराहल श्योपुर में गत दिवस संपन्न हुआ और सेहरिया समुदाय की समस्याओं पर विस्तार से चर्चा की गयी।

प्रदेश में अनुसूचित जनजाति के लिए विधानसभा के 47 क्षेत्र आरक्षित है जिनमें से 30 पर भारतीय जनता पार्टी के प्रत्‍याशी जीते थे। नवंबर में होने जा रहे विधानसभा चुनाव में समर्थन जुटाने के लिए मंडल स्तरीय सम्मेलन आयेाजित किए जा रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here