आपके घर में रखा है जहर

केमिकल का हमारे जीवन से गहरा नाता है। लेकिन क्‍याआपको पता है कि आपके घर में रखे कई ऐसे केमिकल जिन्‍हें आप रोजमर्रा इस्‍तेमाल केलिहाज से जरूरी मानते हैं, वे आपकी सेहत के लिए कितने खतरनाक है। इन केमिकल्‍स को हमकमरे तथा सामान साफ करने जैसे काम के लिये प्रयोग करते हैं। लेकिन आपको एहसास नहींहोगा कि उपयोगी समझे जाने वाले ये केमिकल दरअसल हमारे घर में ही जहर घोल रहे हैं। जरूरतहै इन्‍हें पहचानने और अपने आप से दूर करने की। आइए जानते हैं ऐसे ही कुछ केमिकल्‍सके बारे में।

यह हैं वे खतरनाक केमिकल प्रोडक्‍ट:

1. टॉयलेट, टब और टाइल क्‍लीनर: घर में जिस जगह कोसबसे ज्‍यादा सफाई की जरुरत होती है वह है बाथरूम। इसे साफ करने के‍ लिये हाइड्रोक्‍लोरिकएसिड और सल्‍फ्यूरिक एसिड को लेकर कॉस्‍टिक केमिकल मोनोइथानोलामाइन मिला कर बनाया जाता है। दोनों हीरसायन अस्‍थमा को बढा़वा देने वाले हैं और लीवर डैमेज कर सकते हैं।

 

सेफ ऑपशन– अच्‍छा होगा कि टॉयलेट को आप शुद्ध सिरके सेसाफ करें। इसके अलावा टाइल्‍स को साफ करने के लिये वॉशिंग सोडा या बोरॉक्‍स का इस्‍तेमालकिया जा सकता है।

2. एंटीबैक्‍टीरियल क्‍लीनर और सोप: इस क्‍लीनर में ट्राईक्‍लोसन नामक रसायन पायाजाता है, जिसे प्रतिरक्षा प्रणाली, प्रजनन शक्‍ति को कमजोर करने तथा शिशु में जन्मदोष पैदा करने का कारण माना जाता है।
सेफ ऑपशन– इसके लिये आप वही पुराना हाथ धोने वाला साधारणसाबुन प्रयोग कर सकते हैं। अगर साधारण सोप 99.4 प्रतिशत तक के बैक्‍टीरिया का खात्‍मा करता है, तो एंटीबैक्‍टीरियलसोप केवल 99.6 प्रतिशत, जो कि कोई ज्‍यादानहीं है।

3. एयर फ्रेशनर: घर को महकाने के लिये हम-आप अक्‍सर रूम फ्रेशनरका इस्‍तेमाल करते हैं। लेकिन इसमें फार्मल्डिहाइड मिला रहता है, जो एलर्जी, त्‍वचा रोग, म्‍यूकस मेम्‍बरेन में जलन, जोड़ो और सीने मे दर्द पैदा कर सकता है। कईलोगो को इसके प्रयोग से तनाव, चक्‍कर और बेहोशीभी आने लगती है।

सेफ ऑपशन– घर की खिड़कियों और दरवाजों को खोल कर रखेंजिससे कुछ फ्रेश हवा अंदर आ सके। इसके अलावा कुछ प्राकृतिक तेल और फूलों का इस्‍तेमालकर आप घर को महका सकते हैं।
4. डिश वॉशर डिटर्जन्ट : बर्तन धोने वाले बार में आपको फॉस्‍फोरस मिलेगाऔर आप जानते ही हैं कि फॉस्‍फोरस ने हमारी नदियों को कितना नुक्‍सान पहुंचाया है। इसीतरह से क्‍लोरीन भी काफी खतरनाक है, अगर यह सूखाप्रयोग किया जाए तो इससे त्‍वचा में जलन और खुजली महसूस होने लगेगी। साथ ही म्‍यूकसमेंबरेन और आंखों को भी तकलीफ हो सकती है।

सेफ ऑपशन– आज कल बाजार में फॉस्‍फोरस और क्‍लोरीन रहितअच्‍छे डिटर्जन्‍ट डिश वॉशर मिलने लगे हैं इसलिये उन्‍हीं का प्रयोग करें।

5. कार्पेट और गृह सामग्री शैंपू :कार्पेट या गलीचे को साफ करने के लिये जो क्‍लीनरप्रयोग होता है उसमें परक्‍लोरिथाइलिन का इस्‍तेमाल किया जाता है। यह वही केमिकलहै जो कि ड्रायक्‍लीनिंग के लिये प्रयोग होता है। यह बड़ा ही हानिकारक केमिकल है, जो इंसान के लीवर, किडनी और नर्वस सिस्‍टम पर काफी बुरा असर डालताहै।

सेफ ऑपशन– नमक से आप फ्रूट जूस या वाइन का दाग साफ करसकती हैं। इसके अलावा सोडा हल्‍का दाग हटाने में मददगार होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here