आलू, प्याज के भण्डारण की लिमिट तय होगी

भोपाल, जुलाई 2014/ खाद्य, नागरिक आपूर्ति मंत्री कुंवर विजय शाह ने कहा है कि प्रदेश में आलू, प्याज के दामों पर नियंत्रण एवं जमाखोरी रोकने के लिये जल्द ही इनके भंडारण की लिमिट तय की जायेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश के प्रत्येक जिला मुख्यालय पर सब्जियों एवं फलों के भंडारण के लिये कोल्ड स्टोरेज बनाये जायेंगे। खाद्य मंत्री कुंवर विजय शाह ने भोपाल में इस संबंध में बैठक की।

मंत्री ने कहा कि पिछले कुछ वर्षों से आलू, प्याज के दामों में अचानक से होने वाली वृद्धि से केन्द्र एवं राज्य सरकार चिंतित है। केन्द्र सरकार ने आलू, प्याज को आवश्यक वस्तुओं की सूची में शामिल किया है। केन्द्र सरकार ने इन जिन्स के भंडारण की लिमिट तय करने केलिये राज्यों से सुझाव माँगे है। उन्होंने कहा कि भंडारण की लिमिट तय करते वक्त किसानों एवं छोटे व्यापारियों के हितों का ख्याल रखा जायेगा। प्रदेश में आलू, प्याज समेत सब्जियों के भंडारण के लिये निजी निवेश से कोल्ड स्टोरेज को बनाने के लिये राज्य सरकार की ओर से हरसंभव मदद दी जायेगी। इसके लिये न्यूनतम दर की लीज पर भूमि उपलब्ध करवायेगी। उन्होंने बताया कि प्रत्येक जिला मुख्यालय पर मंडी के आसपास बड़े कोल्ड स्टोरेज बनाये जायेंगे। खाद्य मंत्री ने बताया कि हाल ही में दिल्ली में हुई बैठक में उन्होंने इन भंडारगृह की कुल लागत में 50 प्रतिशत केन्द्रीय सहायता दिये जाने का सुझाव दिया है। खाद्य मंत्री ने बतायाकि प्रदेश में वर्तमान में 12 लाख मीट्रिक टन आलू और 42 लाख मीट्रिक टन प्याज का उत्पादन होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here