उद्योग-व्यापार कर का 50 प्रतिशत स्वास्थ्य, शिक्षा और भोजन पर खर्च होगा

अनूपपुर, फरवरी 2013/ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि उद्योग और व्यापार से राज्य सरकार को मिलने वाली कर राशि का 50 प्रतिशत गरीबों के स्वास्थ्य, शिक्षा और भोजन आदि व्यवस्थाओं पर खर्च किया जायेगा। श्री चौहान अनूपपुर जिले के अमरकंटक में नर्मदा जयंती के अवसर पर नर्मदा शुद्धिकरण अभियान का शुभारंभ कर रहे थे। उन्होंने सपत्नीक माँ नर्मदा की पूजा-अर्चना की और प्रदेश तथा प्रदेशवासियों की सुख-समृद्धि की कामना की और माँ नर्मदा को 1100 मीटर लंबी चुनरी अर्पित की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि नर्मदा के उद्गम स्थल पर बने प्राचीन मंदिरों को यथावत रखते हुए पूरे परिसर के विकास, घाट निर्माण तथा श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधाएँ उपलब्ध करवाने के लिए सम्पूर्ण विकास की कार्य-योजना तैयार कर लागू की जायेगी। नर्मदा शुद्धिकरण के लिए सभी के सहयोग की अपेक्षा करते हुए कहा कि नर्मदा किनारे हरियाली चुनरी योजना बनाई जाये। प्रतिवर्ष हर परिवार कम से कम एक पेड़ अवश्य लगाये। अमरकंटक से प्रदेश की सीमा तक नर्मदा के शुद्धिकरण के लिए 1300 करोड़ रुपये की योजना बनाई गई है। जन-सामान्य से नर्मदा पथ वृक्षारोपण, नर्मदा शुद्धिकरण अभियान एवं नर्मदा परिक्रमा पथ के विकास में सहयोग की अपेक्षा है।

5 करोड़ रुपये की घोषणा

मुख्यमंत्री ने पवित्र नगरी अमरकंटक के विकास के लिए मुख्यमंत्री अधोसंरचना मद से 5 करोड़ रुपये मंजूर करने की घोषणा की। पसान, कोतमा और बिजरी नगर पालिका के लिए 125-125 लाख रुपये मंजूर किए। किरगी और दमेहड़ी सामूहिक नल-जल योजना के निर्माण के लिए 71-71 करोड़ रुपये की घोषणा की। अमरकंटक के विकास से संबंधित 5 करोड़ 12 लाख रुपये के कार्यों का भूमि-पूजन भी किया। इनमें सड़क, शापिंग काम्पलेक्स, रैन बसेरा आदि कार्य शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here