एक करोड़ से अधिक ने किया सूर्य नमस्कार

भोपाल, जनवरी 2013/ स्वामी विवेकानंद जंयती, युवा दिवस पर समवेत सूर्य नमस्कार कार्यक्रम में एक करोड़ से अधिक स्कूली और महाविद्यालयीन विद्यार्थियों ने अपनी उपस्थिति दर्ज करायी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रतलाम में सहभागिता की। राजधानी भोपाल के समारोह में नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री बाबूलाल गौर ने सूर्य नमस्कार में हिस्सा लिया। बैरागढ़ के बालक हायर सेकण्डरी स्कूल में इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में आसपास के स्कूली विद्यार्थियों ने सहभागिता की। स्वामी विवेकानंद और देवी सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण और दीप प्रज्‍ज्‍वलन के साथ कार्यक्रम प्रारंभ हुआ।

आकाशवाणी के प्रदेश व्यापी प्रसारण के साथ कार्यक्रम प्रारंभ होने पर सर्वप्रथम कार्यक्रम से जुड़ी सूचनाएँ प्रसारित हुई और फिर मंगलाचरण के स्वर गूंजे। आकाशवाणी से वंदे-मातरम् के प्रसारण के दौरान उपस्थित जनसमूह, विद्यार्थी और अतिथियों ने अपने स्थान पर सम्मान पूर्वक खड़े होकर वंदे-मातरम् का गायन किया। मध्यप्रदेश गान के पश्चात चिकित्सक प्रियनाथ अग्रवाल ने प्रदेश के विद्यार्थियों को आकाशवाणी के माध्यम से एकाग्रता और स्वस्थ जीवन के लिए सूर्य नमस्कार और प्राणायाम की महत्ता के बारे में बताया। इसके बाद स्वामी विवेकानंद जी के शिकागो भाषण के अंश और उसका हिन्दी अनुवाद का प्रसारण हुआ।

मुख्यमंत्री ने आकाशवाणी के माध्यम से विद्यार्थियों और जन-समुदाय को संबोधित करते हुए अच्छे-सच्चे, सदाचारी और जवाबदार नागरिक बन देश और प्रदेश का नाम रौशन करने का संकल्प लेने का आव्हान किया।

आकाशवाणी ने जब सूर्य नमस्कार की उद्घोषणा प्रारंभ हुई तब पूरे प्रदेश में एकसाथ करोड़ों हाथ सूर्य की ओर उठ गये। तीन चक्र सूर्य नमस्कार और प्राणायाम के बाद कार्यक्रम के समापन की घोषणा के बाद भी अनेक स्थानं पर विद्यार्थियों ने अपने शिक्षकों के साथ योग गतिविधियों पर चर्चा प्रारंभ रखी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here