किसान महापंचायत में मुख्यमंत्री की महत्वपूर्ण घोषणाएँ

भोपाल, फरवरी 2013/ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यहां किसानों की उपस्थिति से खचा-खच भरे विशाल जम्बूरी मैदान में आयोजित किसान महापंचायत में किसानों को अनेक सौगातें दीं। इस अवसर पर मुख्यमंत्री द्वारा की गयी प्रमुख घोषणायें-

  • मध्यप्रदेश में गेहूँ का समर्थन मूल्य बढ़ाने की घोषणा।
  • अब प्रदेश में छह हजार करोड़ रुपये के अतिरिक्त व्यय से समर्थन मूल्य पर 1500 रुपये क्विंटल गेहूँ खरीदा जायेगा। किसानों को गेहूँ की इतनी ऊँची कीमत देने वाला मध्यप्रदेश का पहला राज्य।
  • बिजली के मीटर का चक्कर खत्म। किसानों से 1200 रुपये प्रति हार्स पावर प्रति वर्ष का फ्लेट रेट लिया जायेगा। वर्ष में दो बार में भुगतान की सुविधा।
  • किसानों को विदेश जाकर खेती की उन्नत तकनीकी देखने समझने के लिये मुख्यमंत्री किसान विदेश अध्ययन यात्रा योजना।
  • विद्युत संबंधी लम्बित प्रकरणों का लोक अदालतों के जरिये निराकरण।
  • सहकारी बैंकों में कोर बैंकिंग लागू होगी।
  • दुग्ध उत्पादक किसानों को समूह गठित कर लाभान्वित किया जायेगा।
  • फल-फूल उत्पादन में वृद्धि के लिये किसानों के समूह बनाये जायेंगे। पांच वर्ष में एक हजार करोड़ रुपये खर्च होंगे।
  • किसानों का डाटा बेस बनाया जायेगा।
  • स्प्रिंकलर में 80 प्रतिशत अनुदान की योजना का निर्धारित लक्ष्य पांच गुना बढ़ाया जायेगा।
  • किसानों को एस.एम.एस. के जरिये संवाद कर उन्नत खेती की जानकारी दी जायेगी।
  • नदियों एवं नाले में डूबने की घटना को भी प्राकृतिक आपदा माना जायेगा।
  • कस्टम हायरिंग सेंटर खोले जायेंगे।
  • पारित प्रस्ताव

  • महापंचायत में किसानों की सर्वसहमति से प्रस्ताव पारित कर केन्द्र सरकार से मांग की गयी :
  • खाद-बीज की कीमतों में वृद्धि वापस ली जाय।
  • गेहूँ का समर्थन मूल्य 1600 रुपये क्विंटल घोषित किया जाय।
  • कोदो-कुटकी का भी समर्थन मूल्य घोषित किया जाय।
  • डोडा-चूरा जलाने की बजाय खरीदा जाय।
  • बारहवीं पंचवर्षीय योजना को जल वर्ष घोषित किया जाय।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here