कृषि कर्मण पुरस्कार के लिए किसानों को बधाई

भोपाल, जनवरी 2013/ राज्य मंत्रि-परिषद की बैठक में कृषि मंत्री डॉ. रामकृष्ण कुसमरिया ने केन्‍द्र सरकार द्वारा मध्यप्रदेश को 15 जनवरी को दिए गए प्रतिष्ठित ‘कृषि कर्मण’ पुरस्कार की जानकारी दी। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने इस उपलब्धि के लिए राज्य के किसानों को बधाई दी है। उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश को देश में सर्वाधिक खाद्यान्न उत्पादन सहित 3 श्रेणी के लिए राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने 15 जनवरी को नई दिल्ली में ‘कृषि कर्मण’ पुरस्कार के रूप में 2 करोड़ रुपए की पुरस्कार राशि और प्रशस्ति-पत्र प्रदान किया है। यह पुरस्कार मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान एवं कृषि मंत्री डॉ. कुसमरिया ने ग्रहण किया।

मंत्रि-परिषद की बैठक प्रारंभ होते ही सर्वप्रथम सभी सदस्यों को मध्यप्रदेश को प्राप्त ‘कृषि कर्मण’ अवार्ड का विस्तृत विवरण दिया गया। राज्य मंत्रि-परिषद के समस्त सदस्यों ने करतल ध्वनि से प्रदेश की इस उपलब्धि पर हर्ष व्यक्त किया और मुख्यमंत्री को बधाई दी। कृषि मंत्री द्वारा भारत सरकार से प्राप्त पुरस्कार की प्रशस्ति-पटि्टका का वाचन भी किया गया।

उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश को कृषि उत्पादन में अग्रणी राज्य, कृषि केबिनेट के गठन की पहल, उत्पादकता वृद्वि, बलराम तालाबों के निर्माण और किसानों के लिए सुविधाएँ विकसित करने वाले सर्वश्रेष्ठ राज्य के रूप में पुरस्कृत किया गया है। गेहूँ उत्पादन के साथ ही अन्य कृषि उत्पादनों में उत्पादकता वृद्वि के प्रयासों के लिए मध्यप्रदेश को सर्वश्रेष्ठ राज्य माना गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here