गोवर्धन पूजा से पर्यावरण को बचाने का संदेश

भोपाल, अक्टूबर 2014/ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि भारतीय संस्कृति में हजारों वर्ष पहले गोवर्धन पूजा के माध्यम से पर्यावरण को बचाने का संदेश दिया गया है। यह संदेश आज भी प्रासंगिक है। मुख्यमंत्री यहाँ दीपावली के दूसरे दिन गोवर्धन पर्व पर यह बात कही। उन्होंने अपनी धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह के साथ विधि-विधान से गौ-पूजा की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत में गोवर्धन पूजा के माध्यम से धरती को बचाने का संदेश दिया गया है। धरती पर जीव, पेड़-पौधे, पर्वत, पर्यावरण सभी की रक्षा की बात कही गयी है। क्योंकि पेड़-पौधे होंगे तो वर्षा होगी, कृषि होगी और नदियों में पानी रहेगा। इसी से हमारी पृथ्वी सुरक्षित रहेगी। इसलिये पेड़-पौधों की रक्षा जरूरी है। नागरिक गोवर्धन पूजा के अवसर पर संकल्प लें कि पेड़-पौधों, नदियों और पर्यावरण को बचायेंगे। इससे भावी पीढ़ियों के लिये बेहतर जीवन दिया जा सकेगा।

श्री चौहान तथा श्रीमती साधना सिंह तथा उनके दोनों पुत्रों कुणाल और कार्तिकेय ने गौ-पूजा की तथा आरती उतारकर मध्यप्रदेश में गौ वंश संवर्धन तथा दूध उत्पादन में वृद्धि की कामना की। इस अवसर पर उच्च शिक्षा एवं तकनीकी शिक्षा मंत्री उमाशंकर गुप्ता, वन मंत्री गौरीशंकर शेजवार, सांसद अनिल माधव दवे, सांसद नंदकुमार सिंह चौहान, अरविंद मेनन, सांसद आलोक संजर, विधायकद्वय रामेश्वर शर्मा और विश्वास सारंग, आलोक शर्मा उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here