छात्राएँ स्कूल में मोबाइल लेकर न आयें: रंजना बघेल

धार, जनवरी 2013/ महिला-बाल विकास मंत्री श्रीमती रंजना बघेल ने छात्राओं को सलाह दी है कि वे स्कूल में मोबाइल फोन लेकर न आयें, इससे अध्ययन में व्यवधान होता है। श्रीमती बघेल आज धार जिले के मनावर में उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के वार्षिकोत्सव को संबोधित कर रही थीं! उन्होंने प्राचार्य को निर्देश दिये कि स्कूल में मोबाइल लाने की अनुमति न दी जाये।

श्रीमती रंजना बघेल ने कहा कि छात्राएँ अपने लिए लक्ष्य निर्धारित करे कि वे आगे किस क्षेत्र में जाना चाहती है। विद्यार्थी चरैवेति-चरैवेति के सिद्धांत को अपने जीवन में उतारे तथा लक्ष्य प्राप्ति के लिए एकाग्र होकर लगन व कड़ी मेहनत के साथ प्रयास करें, तो सफलता उनके कदम अवश्य चूमेगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बेटियों की शिक्षा की चिंता की है और उनके लिए निःशुल्क किताब, ड्रेस, साइकिल, छात्रवृत्ति, भोजन आदि की व्यवस्था की है। छात्राएँ चाहे तो सरकारी खर्च पर विदेश में उच्च शिक्षा के लिए जा सकती हैं। राज्य शासन ने इसके लिए १५ लाख रूपये तक की छात्रवृत्ति की व्यवस्था की है।

श्रीमती बघेल ने विद्यालय के स्थायी मंच निर्माण के लिए विधायक निधि से ४० हजार रूपये दिए जाने की घोषणा की। उन्होंने मेधावी छात्राओं तथा विभिन्न खेल प्रतियोगिताओं में विजयी छात्राओं को शील्ड और प्रमाण-पत्र भी वितरित किए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here