जन-धन योजना अमल में उज्जैन जिला सबसे आगे

भोपाल, नवम्बर  2014/ प्रधानमंत्री जन-धन योजना के क्रियान्वयन में मध्यप्रदेश का उज्जैन जिला सबसे आगे रहा है। इस जिले में निवासरत समस्त परिवार को बेंकों से जोड़ा जा चुका है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा स्वतंत्रता दिवस पर की गई घोषणा के अनुरूप मध्यप्रदेश में योजना के क्रियान्वयन को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान व्यक्तिगत रुचि लेकर देख रहे हैं। योजना में 26 जनवरी 2015 तक खाते खोले जाना है।

उज्जैन जिले में स्थानीय प्रशासन एवं सभी बेंक के संयुक्त सहयोग से जिले में रहने वाले 3 लाख 95 हजार 101 परिवार को पिछले 3 माह के दौरान बेंकों से जोड़ा गया। इसके पूर्व जिले में 2 लाख 74 हजार 299 परिवार के पास बेंक खाते उपलब्ध थे। प्रधानमंत्री की घोषणा के बाद चलाये गये अभियान के दौरान बेंकों द्वारा एक लाख 20 हजार 802 खाते खोले गये। अब उज्जैन जिले का कोई भी परिवार ऐसा नहीं है, जिसका बेंक खाता नहीं खुला हो। बेंकों द्वारा अब तक 65 हजार 592 परिवार को रूपे-कार्ड उपलब्ध करवाया जा चुका है।

जन-धन योजना के क्रियान्वयन के कार्य को सर्वप्रथम पूर्ण कर प्रदेश में प्रथम रहने पर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने उज्जैन जिला कलेक्टर कविन्द्र कियावत एवं अग्रणी जिला प्रबंधक बेंक ऑफ इण्डिया श्री बी.एम. जौहरी को बधाई दी है। मुख्यमंत्री ने अन्य जिलों के कलेक्टर, प्रशासन और बेंकों से अपेक्षा की है कि उज्जैन की भाँति वे भी तत्परता से इस कार्य को निर्धारित समयावधि में पूरा करें। इससे मध्यप्रदेश देश में योजना का शत-प्रतिशत क्रियान्वयन करने वाला अग्रणी राज्य बन सकेगा।

उल्लेखनीय है कि जन-धन योजना में प्रत्येक परिवार को बेंकिंग से जोड़ने के लिये प्रथमत: परिवार के किसी भी एक सदस्य का बेंक में खाता खोला जाता है। खाता-धारक को रूपे-कार्ड भी जारी किया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here