जैत में अपनों के बीच पहुँचे मुख्यमंत्री

भोपाल, नवंबर 2012/ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भाई दूज का त्यौहार मनाने अपने गाँव जैत पहुँचे जहाँ उन्होंने अपनी धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह तथा पुत्र कुणाल और कार्तिकेय के साथ विधि-विधान से भाई दूज की परंपराओं का निर्वाह किया। मुख्यमंत्री भाई दूज की पूर्व संध्या पर ही सपरिवार जैत पहुँचे थे। जैत में मुख्यमंत्री ने ग्रामवासियों से स्नेहपूर्वक मिलकर दीपावली की शुभ कामनाओं का आदान-प्रदान किया। भाई दूज की प्रातः मुख्यमंत्री ने नर्मदा स्नान कर माँ नर्मदे की पूजा-अर्चना की। बाद में परंपराओं के अनुरूप पैतृक निवास पर पूजा-अर्चना एवं अन्य धार्मिक रीति-रिवाज पूरे किए।

ग्रामीणों की समस्याएँ सुनी

जैत में मुख्यमंत्री ने ग्राम देवता और श्री हनुमान जी के मंदिर में पूजा-अर्चना की। फिर वे जा बैठे मिलने वालों के बीच जहाँ दीपावली की हार्दिक शुभकामनाओं के आदान-प्रदान के बीच सुख-दुख की बातें हुई। त्‍योहार के इस माहौल में भी मुख्यमंत्री क्षेत्र के विकास की बात करना नहीं भूले। उन्‍होंने सड़क, बिजली, पानी जैसे मुद्दों पर ग्रामीणों और अधिकारियों से चर्चा कर क्षेत्रीय गतिविधियों की जानकारी हासिल की। ग्रामीणों की समस्याएँ सुनकर उनका निराकरण किया। प्राप्‍त आवेदनों पर तत्परतापूर्वक कार्यवाही करने के निर्देश भी दिए।

बिटिया के हक में कई योजनाएँ

मुख्यमंत्री ने कहा कि भाई दूज का पर्व बहन-भाई के पवित्र रिश्ते का स्मरण करवाता है। बहन से ही भाई का महत्व है। बेटी है तो कल है। सरकार बिटिया के हक में अनेक योजनाएँ चला जा रही हैं। प्रदेश में बेटे और बेटी के फर्क को समाप्त करने के लिए बेटी बचाओ अभियान चलाया जा रहा है। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने बेटियों का पूजन भी किया।

पंचायत भवन का अवलोकन

मुख्यमंत्री ने जैत में ग्राम पंचायत भवन और स्वास्थ्य भवन का अवलोकन कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। पंचायत भवन में की गई विभिन्न सुविधाओं और कम्प्यूटरीकृत व्यवस्थाओं की सराहना की। कलेक्टर कवीन्द्र कियावत ने बताया कि ग्राम पंचायत जैत को ऑनलाइन सुविधा से जोड़ा गया है।

बिजली के मामले में आत्म-निर्भर बनेगा प्रदेश

श्री चौहान ने कहा कि बिजली के मामले में प्रदेश को आत्म-निर्भर बनाया जाएगा। प्रदेश में शीघ्र ही चौबीस घन्टे बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित की जाएगी। प्रदेश में रोजगार के अवसर बढ़ाने के लिए औद्योगिक क्रान्ति की शुरूआत हो चुकी है इससे युवाओं को रोजगार के अधिकाधिक अवसर प्राप्त होंगे। नर्मदा नदी को क्षिप्रा सहित मालवा क्षेत्र की तीन अन्य नदियों से जोड़ने की कार्ययोजना पर काम चल रहा है। इससे 16 लाख हेक्टेयर से अधिक क्षेत्र में किसानों को सिंचाई सुविधा का लाभ मिलेगा।

इस मौके पर वेयरहाउसिंग कार्पोरेशन अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह राजपूत, मार्कफेड अध्यक्ष रमाकांत भार्गव, जिला पंचायत अध्यक्ष धर्मेन्द्र सिंह चौहान, नगर पंचायत शाहगंज अध्यक्ष श्रीमती चन्द्रकला मेहरा सहित बड़ी संख्या में स्थानीय जन-प्रतिनिधि और ग्रामीण मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here