डबास बहाल,विभागीय जांच भी होगी

भोपाल, नवंबर 2012/ राज्य सरकार ने निलंबित आईएफएस आजाद सिंह डबास की विभागीय जांच शुरू करते हुए बहाली के आदेश जारी कर दिये हैं। उन्हें अनुसंधान एवं विस्तार सागर मुख्य वन संरक्षक के पद पर पदस्थ किया है। उल्लेखनीय है कि तत्कालीन मुख्य वन संरक्षक ग्वालियर डबास को निरंतर गंभीर अनुशासनहीनता के आरोप में 28 अप्रैल 2012 को निलंबित किया था। उन्हें 8 जून 2012 को आरोप पत्र जारी कर 15 दिवस में जवाब देने को कहा गया था, लेकिन डबास द्वारा निर्धारित अवधि निकल जाने के बाद 12 अक्टूबर को जवाब दिया गया। जवाब से संतुष्ट न होने पर विभाग ने उनके खिलाफ विभागीय जांच करने का निर्णय लिया है।

पदस्थापना: एक अन्य आदेश में आईएफएस एके बिसारिया मुख्य वन संरक्षक अुनसंधान एवं विस्तार सागर को प्रशासन अकादमी में विशेष कर्तव्यस्थ अधिकारी विधि एवं सतर्कता के पद पर पदस्थ किया है। इस संबंध में वन विभाग ने बिसारिया की सेवाएं जीएडी को प्रतिनियुक्ति पर सौंप दी है।

इसी प्रकार राज्य सरकार ने चार आईएफएस अफसरों को पदोन्न्त कर उनकी नवीन पदस्थापना कर दी है। सतीश कुमार त्यागी मुख्य वन संरक्षक छतरपुर वृत्त को अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक राज्य वन विकास निगम भोपाल, अभय कुमार जैन मुख्य वन संरक्षक एवं प्राचार्य रेंजर्स कालेज बालाघाट को अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक नार्दन कोल फील्ड लिमिटेड सिंगरौली, आरजी सोनी मुख्य वन संरक्षक अनुसंधान एवं विस्तार वृत्त जबलपुर को अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक एवं सदस्य सचिव जैव विविधता बोर्ड भोपाल के पद पर पदस्थ किया गया है। इन तीनों अफसरों को अन्य व्यवस्था होने तक रिक्त पदों का अतिरिक्त प्रभार भी सौंपा गया है। वहीं डॉ.गोपा पांडेय विशेष कर्तव्यस्थ अधिकारी प्रशासन अकादमी को अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक के पद पर पदोन्न्त करते हुए उनकी पदस्थापना यथावत रखी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here