तीन लाख से अधिक शिशुओं एवं माताओं को लगे टीके

भोपाल, दिसंबर 2012/ राज्य शासन द्वारा गर्भवती महिलाओं को नियमित एवं संपूर्ण प्रसव-पूर्व जाँचें तथा एवं माताओं एवं शिशुओं को संपूर्ण टीकाकरण उपलब्ध करवाने के लिए 1 से 20 दिसंबर तक विशेष अभियान चलाया गया। अभियान में 3 लाख 5 हजार से अधिक शिशु एवं गर्भवती माताओं को बीमारियों से पूर्णतः सुरक्षित किये जाने के लिए टीकाकृत किया गया।

स्वास्थ्य विभाग के प्रयासों की सफलता से पूर्व की अपेक्षा इस बार गर्भवती महिलाओं का पंजीयन 63 से बढ़कर 75 प्रतिशत एवं शिशुओं का पंजीयन 59 से बढ़कर 72 प्रतिशत हो गया। यह कार्य लोक स्वास्थ्य विभाग द्वारा विशेष साफ्टवेयर एम.सी.टी.एस के माध्यम से संकलित जानकारी से संभव हो सका। अभियान में 41 हजार 914 गर्भवती महिलाओं एवं 57 हजार 541 शिशुओं को पूर्व में दी गई स्वास्थ्य सेवाओं को अद्यतन भी किया गया।

अभियान में 8869 दल का गठन कर घर-घर से महिलाओं एवं बच्चों को चिन्हित कर टीकाकरण एवं स्वास्थ्य सेवाओं से जोड़ा गया । ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवाओं के लिए कार्यरत आशा कार्यकर्त्ताओं के माध्यम से शिशुओं एवं गर्भवती माताओं को टीकाकरण के लिए चिन्हित किया गया। कुल 1लाख 91 हजार 716 शिशु एवं 1 लाख 58 हजार 533 गर्भवती माताओं को बीमारियों से सुरक्षा के टीके लगाए गए। प्रतिदिन विशेष कार्ययोजना के अनुरूप एएनएम के माध्यम से माताओं एवं शिशुओं का टीकाकरण किया गया । टीकाकरण के लिए गठित दलों में 10 हजार 15 वैक्सीन वाहक, 3775 सेक्टर अधिकारी, 792 वाहन एवं 118 अतिरिक्त वेक्सीनेटर शामिल थे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here