पंचायत निर्वाचन कार्यक्रम में आंशिक संशोधन

भोपाल, दिसम्बर 2014/ राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा पंचायत निर्वाचन 2014-15 के लिये पूर्व में जारी निर्वाचन कार्यक्रम में आंशिक संशोधन किया गया है। संशोधित कार्यक्रमानुसार प्रथम चरण के लिये अब 22 दिसंबर से तथा द्वितीय एवं तृतीय चरण के लिये 31 दिसंबर से नाम निर्देशन-पत्र लिये जायेंगे।

उप सचिव दीपक सक्सेना ने जानकारी दी है कि प्रथम चरण के लिये सूचना का प्रकाशन और नाम निर्देशन प्राप्त करने का कार्य 22 दिसम्बर को प्रात: 10.30 बजे शुरू होगा। इसी दिन स्थानों के आरक्षण के संबंध में सूचना और मतदान केन्द्रों की सूची का प्रकाशन भी किया जायेगा। नाम निर्देशन-पत्र 29 दिसंबर की शाम 3 बजे तक प्राप्त किये जायेंगे। नाम निर्देशन-पत्रों की संवीक्षा 30 दिसंबर को होगी। अभ्यर्थिता से नाम वापस लेने की अंतिम तारीख एक जनवरी, 2015 है। निर्वाचन लड़ने वाले अभ्यर्थियों को निर्वाचन प्रतीकों का आवंटन एक जनवरी, 2015 को, अभ्यर्थिता से नाम वापसी के ठीक बाद होगा। मतदान आगामी 13 जनवरी को होगा।

पंच एवं सरपंच पद के लिये मतगणना मतदान समाप्ति के तुरन्त बाद मतदान केन्द्र पर की जायेगी। जिला एवं जनपद पंचायत सदस्य की मतगणना 16 जनवरी को विकासखण्ड मुख्यालय पर होगी। जनपद पंचायत सदस्यों के लिये मतों का सारणीकरण और निर्वाचन परिणाम की घोषणा भी 16 जनवरी को होगी। जिला पंचायत सदस्य के लिये मतों का जिला मुख्यालय पर सारणीकरण और निर्वाचन परिणाम की घोषणा 17 जनवरी को होगी। सरपंच एवं पंच के मतों का सारणीकरण और परिणाम की घोषणा भी 17 जनवरी को विकासखण्ड मुख्यालय पर की जायेगी।

द्वितीय चरण के लिये सूचना का प्रकाशन और नाम निर्देशन प्राप्त करने का कार्य 31 दिसम्बर को प्रात: 10.30 बजे शुरू होगा। इसी दिन स्थानों के आरक्षण के संबंध में सूचना और मतदान केन्द्रों की सूची का प्रकाशन भी किया जायेगा। नाम निर्देशन-पत्र 7 जनवरी, 2015 की शाम 3 बजे तक प्राप्त किये जायेंगे। नाम निर्देशन-पत्रों की संवीक्षा 8 जनवरी, 2015 को होगी। अभ्यर्थिता से नाम वापस लेने की अंतिम तारीख 10 जनवरी, 2015 है। निर्वाचन लड़ने वाले अभ्यर्थियों को निर्वाचन प्रतीकों का आवंटन 10 जनवरी, 2015 को अभ्यर्थिता से नाम वापसी के ठीक बाद होगा। मतदान 31 जनवरी को होगा।

पंच एवं सरपंच पद के लिये मतगणना मतदान समाप्ति के तुरन्त बाद मतदान केन्द्र पर की जायेगी। जिला एवं जनपद पंचायत सदस्य की मतगणना 4 फरवरी, 2015 को विकासखण्ड मुख्यालय पर होगी। जनपद पंचायत सदस्यों के लिये मतों का सारणीकरण और निर्वाचन परिणाम की घोषणा भी 4 फरवरी को होगी। जिला पंचायत सदस्य के लिये मतों का जिला मुख्यालय पर सारणीकरण और निर्वाचन परिणाम की घोषणा 5 फरवरी को होगी। सरपंच एवं पंच के मतों का सारणीकरण और परिणाम की घोषणा भी 5 फरवरी को विकासखण्ड मुख्यालय पर की जायेगी।

तृतीय चरण के लिये सूचना का प्रकाशन और नाम निर्देशन प्राप्त करने का कार्य 31 दिसम्बर को प्रात: 10.30 बजे शुरू होगा। इसी दिन स्थानों के आरक्षण के संबंध में सूचना और मतदान केन्द्रों की सूची का प्रकाशन भी किया जायेगा। नाम निर्देशन-पत्र 7 जनवरी, 2015 की शाम 3 बजे तक प्राप्त किये जायेंगे। नाम निर्देशन-पत्रों की संवीक्षा 8 जनवरी, 2015 को होगी। अभ्यर्थिता से नाम वापस लेने की अंतिम तारीख 10 जनवरी, 2015 है। निर्वाचन लड़ने वाले अभ्यर्थियों को निर्वाचन प्रतीकों का आवंटन 10 जनवरी, 2015 को अभ्यर्थिता से नाम वापसी के ठीक बाद होगा। मतदान 19 फरवरी, 2015 को होगा। मतदान का समय सुबह 7 से अपरान्ह 3 बजे तक रहेगा।

पंच एवं सरपंच पद के लिये मतगणना, मतदान समाप्ति के तुरन्त बाद मतदान केन्द्र पर की जायेगी। जिला एवं जनपद पंचायत सदस्य की मतगणना 22 फरवरी, 2015 को विकासखण्ड मुख्यालय पर होगी। जनपद पंचायत सदस्यों के लिये मतों का सारणीकरण और निर्वाचन परिणाम की घोषणा भी 22 फरवरी को होगी। जिला पंचायत सदस्य के लिये मतों का जिला मुख्यालय पर सारणीकरण और निर्वाचन परिणाम की घोषणा 23 फरवरी को होगी। सरपंच एवं पंच के मतों का सारणीकरण और परिणाम की घोषणा भी 23 फरवरी को विकासखण्ड मुख्यालय पर की जायेगी।

जिला एवं जनपद सदस्य के लिये मतदान ईव्हीएम से तथा पंच और सरपंच पद के लिये मतदान मत पत्र के द्वारा होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here