पत्रकारों को श्रद्धा निधि देने के फैसला का स्वागत

भोपाल, 26 जुलाईः राज्य सरकार द्वारा प्रदेश के बुजुर्ग पत्रकारों को श्रद्धा निधि दिये जाने के निर्णय की पत्रकार जगत ने व्यापक सराहना की है। पत्रकारों के विभिन्न संगठनों ने इस निर्णय के लिये मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान का आभार व्यक्त किया है।

उल्लेखनीय है कि मंत्रि-परिषद ने प्रदेश के बुजुर्ग पत्रकारों को पाँच हजार रुपये प्रतिमाह श्रद्धा निधि देने का निर्णय लिया है। इसका लाभ ऐसे पत्रकारों को मिलेगा जिनकी उम्र 62 वर्ष से अधिक है तथा राज्य शासन से दस वर्ष से अधिमान्य रहे हैं।

सेंट्रल प्रेस क्लब भोपाल के अध्यक्ष श्री गणेश साकल्ले और महासचिव श्री राजेश सिरोठिया तथा संस्थापक सदस्य श्री विजय दास ने राज्य सरकार की प्रशंसा करते हुए कहा है कि राज्य सरकार का यह निर्णय पत्रकारों के हित में है। इसी तरह मध्यप्रदेश श्रमजीवी-पत्रकार संघ के प्रांतीय अध्यक्ष श्री शलभ भदौरिया ने भी इस निर्णय के लिये आभार व्यक्त किया है।

इन्दौर प्रेस क्लब के अध्यक्ष श्री प्रवीण खारीवाल ने कहा है कि इस फैसले का समूचा मीडिया जगत स्वागत करता है। इन्दौर के वरिष्ठ बुजुर्ग पत्रकारों ने भी इस निर्णय का स्वागत किया है। श्रमजीवी पत्रकार संघ रीवा के अध्यक्ष श्री अखिलेश पाण्डेय और महासचिव श्री पुरषोत्तम मिश्रा ने आभार व्यक्त करते हुए कहा है कि इससे पत्रकारों की वर्षों से लंबित माँग पूरी हुई है।

ग्वालियर, जबलपुर, उज्जैन आदि सभी जगह पत्रकारों ने इस निर्णय पर हर्ष व्यक्त करते हुए राज्य शासन, मुख्यमंत्री श्री चौहान, जनसंपर्क मंत्री श्री लक्ष्मीकांत शर्मा के प्रति आभार व्यक्त किया है। जबलपुर से श्रमजीवी पत्रकार संघ के प्रदेश महासचिव श्री नलिनकांत वाजपेई, संभागीय अध्यक्ष श्री परमानंद तिवारी, जिलाध्यक्ष श्री रफीक खान, जर्नलिस्ट यूनियन ऑफ मध्यप्रदेश के प्रदेश सचिव श्री पंकज पटेरिया, जिलाध्यक्ष श्री चैतन्य भट्ट, वर्किंग जर्नलिस्ट यूनियन के प्रांतीय सचिव श्री प्रहलाद साहू नेफैसले का स्वागत करते हुए आभार व्यक्त किया है। ग्वालियर से श्रमजीवी पत्रकार संघ के प्रांतीय संगठन महामंत्री श्री विनय अग्रवाल, प्रांतीय महासचिव श्री सुरेश शर्मा, वरिष्ठ पत्रकार श्री राकेश अचल, श्री प्रवीण मिश्रा आदि पत्रकारों ने भी मुख्यमंत्री श्री चौहान के प्रति कृतज्ञता ज्ञापित की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here