पीड़ितों की सेवा से बड़ा कोई धर्म नहीं: शिवराज

भोपाल, जुलाई 2013/ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पीड़ित मानवता की सेवा को सबसे बड़ा धर्म बतात हुए कहा है कि उनकी सरकार ऐसे लागों को उनके अधिकार दिलाने काम करती रहेगी जो प्रदेश के प्राकृतिक संसाधनों का उपयोग अपने हक में नहीं कर पा रहे हैं। मुख्यमंत्री रोटरी क्लब जबलपुर के हीरक जयंती और पदस्थापना समारोह में बोल रहे थे। विधानसभा अध्यक्ष ईश्वरदास रोहाणी तथा पशुपालन मंत्री अजय सिंह विश्नोई भी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने रोटरी क्लब द्वारा मानवता की सेवा के लिए किये जा रहे कार्यों की सराहना की । उन्होंने प्रदेश को मंदिर, जनता को भगवान और खुद को उनका पुजारी बताते हुए कहा कि वो जनता की सेवा के लिए ही राजनीति के क्षेत्र में आये हैं और इसे ही अपने जीवन का लक्ष्य मानते हैं। पीड़ितो की सेवा से बड़ा आनंद उनके लिए कोई नहीं हो सकता। मुख्यमंत्री ने गरीबों को एक रुपये किलो गेहूं और दो रूपये किलो चांवल देने की योजना से लेकर सरकारी अस्पतालों में मरीजों को निःशुल्क दवा प्रदान करने की योजना का जिक्र करते हुए कहा कि जरूरतमंदों की सेवा के लिए उन्होंने समाज के विभिन्न वर्ग की पंचायतें बुलाई और उनकी समस्याओं का निराकरण कर उनकी भलाई के लिए नई-नई योजनायें लागू की हैं। लेकिन जनकल्याण के काम में समाजसेवी संगठनों की भागीदारी जरूरी है हर काम सरकार अकेले नहीं कर सकती। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here