पुलिस की सक्रियता से कानून-व्यवस्था सुदृढ़

भोपाल, अक्टूबर 2014/ राज्यपाल राम नरेश यादव ने आज लाल परेड ग्राउंड पर पुलिस स्मृति दिवस पर देश और प्रदेश के शहीद पुलिस अधिकारियों और जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में कानून-व्यवस्था की स्थिति को सुदृढ़ बनाये रखने के लिये सराहनीय प्रयास किये जा रहे हैं। अपराधों की त्वरित विवेचना और अपराधियों को सजा दिलवाने के प्रकरणों में मध्यप्रदेश पुलिस की सक्रियता से ही कार्यवाही संभव हुई है। कार्यवाही के दौरान पुलिस अधिकारी और कर्मचारी शहीद हो जाते हैं। शहीदों के परिवारों के कल्याण के लिए सरकार हरसंभव कदम उठा रही है।

इस मौके पर गृह मंत्री बाबूलाल गौर, लोक आयुक्त पी.पी. नावलेकर, मानव अधिकार आयोग के कार्यवाहक अध्यक्ष व्ही.एम. कंवर, सूचना आयुक्त सुखराज सिंह, पुलिस महानिदेशक सुरेन्द्र सिंह और प्रमुख सचिव गृह बी.पी.सिंह उपस्थित थे। राज्यपाल एवं अतिथियों ने पुष्प-चक्र चढ़ाकर शहीद पुलिस अधिकारियों और जवानों को श्रद्धांजलि दी।

राज्यपाल ने कहा कि समाज में शांति, सदभाव और भाईचारे के वातावरण को मजबूत रखने से ही समग्र विकास का मार्ग प्रशस्त होगा। पुलिसकर्मियों को इसी सोच को ध्यान में रखकर अपने कर्त्तव्यों का पालन करना होगा। जनता को शांति और भाईचारे के इस वातावरण को बनाये रखने के लिये आम आदमी को अपने अधिकारों के साथ ही कर्त्तव्यों के प्रति सचेत रहकर पुलिस का सहयोगी बनना होगा। राज्यपाल ने कहा कि महिलाओं के विरूद्ध अपराधों पर नियंत्रण के लिये शुरू की गई राज्य-स्तरीय महिला हेल्पलाइन सेवा अपना काम पूरी मुस्तैदी से कर रही है।

गृह मंत्री बाबूलाल गौर ने दिवंगत पुलिस जवानों को भावभीनी श्रद्धांजलि देते हुए पुलिस जवानों की सेवाओं का स्मरण कर कहा कि राज्य में डकैती की समस्या अब नहीं हैं। नक्‍सली गतिविधियाँ लगभग नगण्य हैं। इसके लिये पुलिस बल साधुवाद का पात्र है। श्री गौर ने कहा कि पुलिसकर्मियों को सायबर अपराध और महिलाओं पर होने वाले अपराधों की रोकथाम के लिए सबसे पहले स्वयं की व्यावसायिक दक्षता बढ़ानी होगी। उन्होंने पुलिसकर्मियों से अपनी साख और धाक को बनाये रखने की अपेक्षा की।

पुलिस महानिदेशक सुरेन्द्र सिंह ने कहा कि बीते एक वर्ष में हमने अपने चार साथियों को खोया है जो कर्त्तव्य पालन करते हुए वीरगति को प्राप्त हो गये हैं। प्रदेश में कानून-व्यवस्था की स्थिति सुदृढ़ है। मध्यप्रदेश पुलिस हर स्थिति में प्रदेश में शांति, कानून-व्यवस्था और विकास के माहौल को सुदृढ़ बनाये रखने के लिये कृत-संकल्पित हैं। इस मौके पर शोक परेड का आयोजन किया गया। शहीद स्मारक पर सलामी दी गई। राज्यपाल ने शहीदों के परिजनों से भी भेंट की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here