पेंशन प्रकरणों में तत्काल कार्रवाई हो: सीएस

भोपाल, जुलाई 2014/ मुख्य सचिव अंटोनी डिसा ने नागरिकों से साप्ताहिक भेंट के अंतर्गत आवेदन-पत्र प्राप्त किए और उनके निराकरण के लिए संबंधित अधिकारी को निर्देश दिए। मुख्य सचिव ने 15 प्रकरण में निर्देश प्रदान किए। भोपाल निवासी श्रीमती सबरुन्निसा ने पति के केंसर रोग और सागर जिले के खुशीराम मिश्रा ने भाई के किडनी रोग के उपचार के लिए आर्थिक सहायता का अनुरोध किया। मुख्य सचिव ने भोपाल और सागर कलेक्टर को प्रकरण में प्रतिवेदन देने के निर्देश दिए।

सीहोर जिले के ज्ञानीचंद मालवीय ने सीमांकन की त्रुटि के संबंध में अवगत करवाया। मुख्य सचिव ने इस प्रकरण में कलेक्टर सीहोर को अनुविभागीय अधिकारी राजस्व द्वारा सीमांकन कार्य करवाने के निर्देश दिए। खरगोन के ओ.पी. शर्मा, भोपाल के सुशील भार्गव और के.एन. तिवारी, सिवनी की श्रीमती इंदिरा नेमा और रायसेन की श्रीमती अर्चना के पेंशन भुगतान में विलंब के मामलों में संबंधित अधिकारियों को अविलंब कार्रवाई के निर्देश दिए गए। जालौन उत्तर प्रदेश के निवासी नारायण कुशवाह के आवेदन में उनकी बहन श्रीमती विमला देवी की ससुराल भिंड नगर में असामयिक मृत्यु के संबंध में ध्यान आकर्षित किया गया। मुख्य सचिव ने प्रमुख सचिव गृह को आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिए। मुख्य सचिव ने इस प्रकरण के संबंध में कलेक्टर भिंड से भी चर्चा की। राजगढ़ जिले के अंतरसिंह की ग्राम पंचायत द्वारा अन्य अनियमितताओं की शिकायत पर मुख्य सचिव ने आयुक्त मनरेगा को एक माह में कार्यवाही लिये कहा। मंडला जिले के दमरीलाल ठाकुर के आवेदन-पत्र पर कलेक्टर मंडला को कार्रवाई करने को कहा गया। श्री ठाकुर ने अपने आवेदन में कहा कि उसके पुत्र को गलत ढंग से आपराधिक प्रकरण में फंसाने के प्रयास किए जा रहे हैं। गुना जिले के नौ आवेदकों द्वारा वन भूमि अधिकार के बावजूद इंदिरा आवास योजना में कुटीर स्वीकृत न किए जाने से अवगत करवाया गया। मुख्य सचिव ने इस प्रकरण में मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जिला पंचायत गुना को एक महीने में आवश्यक कदम उठाने के लिये कहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here