प्रदेश की समृद्धि और विकास का बजट – मुख्यमंत्री

भोपाल,फरवरी 2013/ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि विधानसभा में प्रस्तुत बजट प्रदेश की समृद्धि और विकास का बजट है। यह मध्यप्रदेश को विकसित प्रदेश की पंक्ति में लाने वाला बजट है।

श्री चौहान ने कहा कि वित्तीय वर्ष 2013-14 के इस बजट में अधोसंरचना, पानी, बिजली, सड़क के लिये पर्याप्त प्रावधान किये गये हैं। इसमें खेती को लाभ का धंधा बनाने तथा किसानों के लिये विशेष प्रावधान किये गये हैं। इसमें उद्योगों को बढ़ावा देकर रोजगार के अवसर बढ़ाने की व्यवस्था की गयी है। इस बजट से नौजवानों के मन में उत्साह बढ़ेगा। इसमें मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के लिये प्रावधान किये गये हैं। इसमें छोटे कारीगरों और मजदूरों की सुविधाओं का भी ध्यान रखा है।

श्री चौहान ने कहा कि इस बजट में गृहणियों को राहत दी गयी है। प्रवेश कर घटाने से माताओं-बहनों को कम कीमत पर रसोई गैस मिलेगी। बजट में शिक्षा, स्वास्थ्य और महिला सशक्तिकरण के लिये पर्याप्त प्रावधान किये गये हैं। गरीबों के कल्याण की योजनाओं के लिये पर्याप्त धनराशि का प्रावधान किया गया है। इसके माध्यम से ग्रामीण शहरी मजदूरों को भी राहत दी गयी है। अब गाँव की बेटी और प्रतिभा किरण योजनाओं का लाभ निजी विद्यालयों की बेटियों को भी मिलेगा। लाड़ली लक्ष्मी योजना के लिये भी पर्याप्त प्रावधान किये गये हैं। शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में विद्यालयों और भवनों के निर्माण के साथ ही अध्यापकों के वेतन बढ़ाने का निर्णय भी लिया गया है। कुल मिलाकर यह प्रदेश की प्रगति और विकास का बजट है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here