प्रदेश की 29 सीटों पर 61.57 प्रतिशत मतदान

भोपाल, मई 2014/ मध्यप्रदेश में 29 लोकसभा सीट के लिये मतदान का प्रतिशत 61.57 रहा है। मतदान का यह प्रतिशत वर्ष 2009 के लोकसभा चुनाव के मुकाबले 10.40 प्रतिशत अधिक है। पिछले लोकसभा चुनाव में 51.17 प्रतिशत मतदान हुआ था। मतदान के प्रतिशत में हुई अभूतपूर्व वृद्धि वर्ष 1998 के लोकसभा चुनाव के प्रतिशत 61.74 की तुलना में मामूली अंतर से कम है। हालांकि अभी मतदानकर्मियों और सर्विस वोटर को जारी किये गये 46 हजार 42 डाक मतपत्र की इसमें गणना नहीं की गई है।

मध्यप्रदेश में गुरूवार को हुए तीसरे चरण के 10 संसदीय क्षेत्र के मतदान में मतदाताओं ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया था। मतदाताओं के उत्साह और निर्वाचन आयोग के जागरूकता अभियान के फलस्वरूप तीसरे चरण के मतदान का प्रतिशत 66.66 प्रतिशत रहा है। मतदान का यह प्रतिशत वर्ष 2009 में इन संसदीय क्षेत्रों में हुए लोकसभा चुनाव की तुलना में लगभग 12.82 प्रतिशत अधिक है। पहले चरण के 9 संसदीय क्षेत्र के मतदान का प्रतिशत 63.55 और दूसरे चरण का 54.64 प्रतिशत रहा था।

तीसरे चरण के तहत 10 संसदीय क्षेत्र में हुए मतदान में 70.98 प्रतिशत पुरूष और 62.08 प्रतिशत महिलाओं ने अपने मताधिकार का उपयोग किया। सर्वाधिक 71.35 प्रतिशत मतदान मंदसौर संसदीय क्षेत्र में दर्ज हुआ है। दस संसदीय क्षेत्र में सबसे कम 62.25 प्रतिशत मतदान इंदौर में हुआ है। मध्यप्रदेश में मतदाता जागरूकता के प्रति चले व्यापक अभियान के फलस्वरूप तीसरे चरण के मतदान में उल्लेखनीय वृद्धि परिलक्षित हुई है।

तीसरे चरण के मतदान में विदिशा संसदीय क्षेत्र में 65.63, देवास (अजा) में 70.72, उज्जैन (अजा) में 66.59, मन्दसौर में 71.35, रतलाम (अजजा) में 63.52, धार (अजजा) में 64.49, इन्दौर में 62.25, खरगोन (अजजा) में 67.07, खण्डवा में 70.99 और बैतूल (अजजा) संसदीय क्षेत्र में 65.15 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया है। तीसरे चरण में अन्य मतदाताओं का मतदान प्रतिशत 15.38 रहा है।

इस प्रकार मध्यप्रदेश में इस वर्ष अप्रैल में 29 संसदीय क्षेत्र के लिए हुए तीन चरण के निर्वाचन में मतदान का प्रतिशत 61.57 रहा। इसमें 66.05 प्रतिशत पुरूष और 56.52 महिलाओं ने मतदान किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here