प्रदेश को एक लाख टन अतिरिक्त यूरिया मिलेगा

भोपाल, दिसम्बर 2014/ कृषि मंत्री श्री गौरीशंकर बिसेन ने नई दिल्ली में केन्द्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह और रसायन एवं उर्वरक मंत्री अनन्त कुमार से मुलाकात कर उन्हें राज्य के कृषि परिदृश्य की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि हाल ही में राज्य के बीस से अधिक जिले में वर्षा हुई तथा बुआई कार्य में तेजी आई है। ऐसे में किसानों को यूरिया खाद की बहुत जरूरत है। केन्द्रीय मंत्री द्वय ने कृषि उत्पादन में निरन्तर उत्कृष्टता बनाये रखने पर मध्यप्रदेश को लगातार तीसरे वर्ष मिलने वाले कृषि कर्मण पुरस्कार के लिये बधाई दी। उन्होंने राज्य को दिसम्बर में प्रतिदिन पाँच रेक यूरिया खाद भिजवाते रहने के साथ-साथ पूर्व में रह गई कमी को दूर करने का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि प्रदेश को एक लाख मीट्रिक टन अतिरिक्त यूरिया खाद उपलब्ध करवाया जायेगा।

कृषि मंत्री की केन्द्रीय कृषि मंत्री से मुलाकात के बाद राष्ट्रीय कृषि विकास योजना (आरकेवीवाई) में राज्य को आवंटित 261 करोड़ की राशि में से 235 करोड़ की राशि जारी करने की स्वीकृति दे दी गई। इस 235 करोड़ की राशि में से राज्य को पूर्व में 66 करोड़ रुपये प्राप्त हो चुके हैं। श्री बिसेन ने केन्द्र पोषित अन्य कृषि योजनाओं में भी लम्बित केन्द्रांश जारी करने का अनुरोध किया। प्रमुख सचिव कृषि राजेश राजौरा भी उनके साथ थे।

श्री राजौरा ने बताया कि राज्य को दिसम्बर माह के लिये 3 लाख 70 हजार मीट्रिक टन यूरिया का आवंटन हुआ है जिसमें से 2 लाख 55 लाख हजार मीट्रिक टन अब तक प्राप्त हो चुकी है। राज्य को अक्टूबर एवं नवम्बर माह में निर्धारित मात्रा से काफी कम खाद मिली थी। आज की मुलाकात में राज्य के कृषि उत्पादन के उच्च स्तर को निरन्तर कायम रखने की दिशा में राज्य में खाद की पुरानी कमी को दूर करने के अलावा एक लाख मीट्रिक टन अतिरिक्त खाद दिये जाने का भी फैसला किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here