प्रदेश में पात्र मतदाताओं के नाम अब 20 नवम्बर तक जोड़े जा सकेंगे

भोपाल। भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार मध्यप्रदेश में एक अक्टूबर से मतदाता-सूची के संक्षिप्त पुनरीक्षण का कार्य चल रहा है। निर्वाचन आयोग ने पूर्व में पात्र मतदाताओं के नाम मतदाता-सूची में जोड़ने के लिये 31 अक्टूबर, 2012 की तिथि तय की थी। निर्वाचन आयोग ने मतदाता की सुविधा के लिये तिथि आगे बढ़ाई है। अब मतदाता अपने नजदीक के मतदान-केन्द्र में 20 नवम्बर तक नाम जुड़वा सकेंगे। इसके साथ ही फोटो मतदाता-सूची के संबंध में दावे-आपत्तियाँ भी प्राप्त की जा सकेंगी।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय, भोपाल की वेबसाइट  www.comadhypradesh.nic.in   पर प्रारूप वोटर लिस्ट-2013 अपलोड की गई है। मतदाता फोटो परिचय-पत्र के आधार पर वोटर-लिस्ट में सर्च सुविधा के माध्यम से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। वेबसाइट पर विधानसभा क्षेत्र एवं मतदान-केन्द्र का नाम एवं नम्बर जानने की सुविधा उपलब्ध है। मतदाताओं के लिये ई-रजिस्ट्रेशन की सुविधा भी वेबसाइट पर उपलब्ध कराई गई है।

प्रदेश में एक जनवरी, 2013 तक 18 वर्ष पूरे करने वाले युवा मतदाताओं को अपना नाम मतदाता-सूची में जोड़े जाने का मौका भी दिया गया है। वे इसके लिये फार्म नम्बर-6 भरकर नजदीक के बीएलओ को दे सकते हैं। ऐसे मतदाता जिनका नाम पूर्व से सूची में तो है, लेकिन उनका मतदान-केन्द्र, विधानसभा क्षेत्र, जिला बदल गया है तो वे अपनी नवीन पते के लिये फार्म नम्बर-7 भरकर दे सकते हैं। प्रविष्टि में संशोधन के लिये फार्म नम्बर-8 भरे जाने की जरूरत होगी। अप्रवासी भारतीय के लिये फार्म-6-ए भरकर देना होगा। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय ने वेबसाइट में बीएलओ की जानकारी प्राप्त करने के लिये सर्च सुविधा दी है। मतदाताओं की सुविधा के लिये मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में टोल-फ्री नम्बर 1950 भी लगाया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here