बाँस शिल्पी पंचायत 24 जून को

भोपाल, जून 2013/ वन विभाग द्वारा बंसकार समुदाय, बैगा समाज आदि के बाँस कुटीर उद्योग की समस्याओं को दूर करने तथा इसके व्यावसायिक प्रोत्साहन के लिए 24 जून को ‘बाँस शिल्पी पंचायत’ का आयोजन किया गया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में होने वाली यह पंचायत मुख्यमंत्री निवास भोपाल में प्रातः 10 बजे होगी। बाँस शिल्पी पंचायत में प्रदेश के लगभग 3000 बाँस शिल्पी सहभागिता करेंगे। मुख्यमंत्री द्वारा आयोजित पंचायतों की श्रंखला की यह 33वीं पंचायत है।

उल्लेखनीय है कि प्रदेश के 30.72 प्रतिशत कुल वन क्षेत्र में शासकीय वनों से प्रतिवर्ष 25 हजार नोशनल टन व्यापारिक बाँस तथा 50 हजार नोशनल टन औद्योगिक बाँस (सूखे बाँस के छोटे टुकड़े) का उत्पादन होता है। प्रदेश में उत्पादित औद्योगिक बाँस का करीब 90 प्रतिशत भाग पेपर मिलों को पल्प निर्माण के लिए विक्रय किया जाता है। शेष लगभग 10 प्रतिशत बाँस पान बरेजों, टमाटर, अंगूर उत्पादक एवं अगरबत्ती काड़ी निर्माताओं द्वारा उपयोग किया जाता है।

प्रदेश के शासकीय वनों में उत्पादित करीब एक करोड़ 50 लाख व्यापारिक बाँस में से ग्रामीणों को निस्तार के लिए 30 लाख बाँस तथा बाँस आधारित सामाजिक वर्गों को करीब 25 लाख बाँस ही प्रदाय किया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here