बीमारी सहायता निधि से 10,679 लोग लाभान्वित

भोपाल, नवंबर 2012/ मध्यप्रदेश राज्य बीमारी सहायता निधि से अब तक 10 हजार 679 हितग्राही लाभान्वित हो चुके हैं। निधि में वर्ष 2011-12 में राज्य स्तर पर 1913 तथा जिला स्तर पर 1901 हितग्राहियों को लाभान्वित किया गया है। योजना के लिये चालू माली साल में 70 करोड़ रुपये का प्रावधान है। इस राशि में से अब तक 28 करोड़ 41 लाख 73 हजार से अधिक का व्यय हो चुका है।

राज्य बीमारी सहायता निधि के माध्यम से मध्यप्रदेश के मूल निवासी ऐसे व्यक्तियों को जो गरीबी रेखा से नीचे जीवन-यापन कर रहे हैं और किसी गंभीर जीवन घातक बीमारी से पीड़ित हैं, उन्हें इलाज के लिये एक बार न्यूनतम 25 हजार और अधिकतम 2 लाख रुपये की राशि स्वीकृत की जाती है। यह राशि चेक के माध्यम से प्रदेश एवं देश के विभिन्न मान्यता प्राप्त अस्पतालों को भेजी जाती है।

वर्ष 2006 में राज्य बीमारी सहायता निधि के नियम में संशोधन कर योजना के लिये प्रबंधन समिति का प्रावधान किया गया है। इस समिति के अध्यक्ष लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के मंत्री अध्यक्ष शासन द्वारा नामांकित चार अशासकीय सदस्य जिसमें दो विधायक सदस्य होते हैं। इसके अतिरिक्त शासकीय सदस्यों में प्रमुख सचिव लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, आयुक्त/संचालक चिकित्सा शिक्षा तथा संचालक चिकित्सा सेवाएँ शामिल हैं। संचालक लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण समिति के सदस्य सचिव है। जिला स्तरीय समिति भी प्रदेश के सभी जिलों में गठित की गई हैं।

वर्ष 2010 में शासन के आदेश द्वारा जिला स्तरीय समितियों को रुपये एक लाख तक के प्रकरण जिला स्तर पर ही स्वीकृत करने के लिये अधिकृत किया गया है। जिला स्तरीय समिति में जिले के प्रभारी मंत्री समिति के अध्यक्ष हैं। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी जिला स्तर पर योजना के सदस्य सचिव रहते हैं।

राज्य बीमारी सहायता निधि से सहायता के लिये चिन्हित बीमारियों में केंसर सर्जरी, वक्ष शल्य-क्रिया, हिप रिप्लेसमेंट, घुटना बदलना, हेड इंज्युरी जिसमें ऑपरेशन की आवश्यकता हो, प्रसवोत्तर जटिलता, स्पाइनल सर्जरी, रेटिनल डिटेचमेन्ट, हृदय शल्य-क्रिया, ब्रेन सर्जरी, न्यूरो सर्जरी, एम.डी.आर के प्रकरण, पेसमेकर, पोस्ट बर्न एण्ड बर्न कन्ट्रक्टर, क्रानिक रीनल डिसिसेज और स्वाइन फ्लू जैसी बीमारियाँ हैं। निधि के माध्यम से इनमें सहायता उपलब्ध करवाई जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here