बीमार शायरों तथा अदीबों की सहायता के नियम बनेंगे

भोपाल, नवंबर 2012/ बीमार शायरों तथा अदीबों के लिये सहायता नियम बनेंगे। यह निर्णय मध्यप्रदेश उर्दू अकादमी की कार्यकारिणी समिति की गुरुवार को यहाँ हुई पहली बैठक में लिया गया। बैठक की अध्यक्षता अकादमी के अध्यक्ष सलीम कुरैशी ने की। बैठक में वर्ष 2013-14 के अनुमानित बजट का अनुमोदन तथा वर्तमान वर्ष की गतिविधियों तथा आयोजनों पर विचार किया गया।

इस अवसर पर श्री कुरैशी ने कहा कि अकादमी पूरे प्रदेश में उर्दू तालीम और जबान के प्रचार-प्रसार के लिये काम करेगी। साथ ही प्रदेश के उर्दू शायरों और अदीबों की ज्यादा से ज्यादा हौसला अफजाई भी की जाएगी। बीमार शायरों तथा अदीबों के लिये इमदाद नियम बनाने के लिये श्री नरेन्द्र वीरमनी को अपना प्रतिवेदन 15 दिन के अंदर प्रस्तुत करने की जिम्मेदारी दी गई। उर्दू अकादमी की अन्य समितियाँ बनाने का मापदण्ड तय किया गया। जिला-स्तर पर उर्दू कोचिंग स्थापित करने तथा उर्दू प्रचार-प्रसार समितियाँ बनाने अध्यक्ष को अधिकृत किया। इसके साथ ही उर्दू शायरों-अदीबों को दिये जाने वाले नजराने के लिये भी अध्यक्ष को कमेटी का गठन करने के लिये अधिकृत किया गया।

बैठक में तय किया गया कि उर्दू अकादमी के वर्तमान बजट को और बढ़ाया जाये। इसके लिये शासन को प्रस्ताव भेजने पर सहमति दी गई। कार्यकारिणी ने वर्ष 2006 से मार्च, 2012 तक के सभी मामलों के लिये कमेटी गठित की। साथ ही स्पेशल ऑडिट के बाद रिपोर्ट कार्यकारिणी के समक्ष पेश करने का निर्णय लिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here