बुजुर्गों कल्याण के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार पर बधाई

0
208

भोपाल, अक्‍टूबर 2013/ मुख्य सचिव अन्टोनी डि सा ने सामाजिक न्याय विभाग को राष्ट्रीय स्तर पर पुरस्कृत होने पर बधाई दी है। अपर मुख्य सचिव सामाजिक न्याय श्रीमती अरुणा शर्मा और आयुक्त एवं सचिव सामाजिक न्याय वी.के. बाथम ने मुख्य सचिव को अवार्ड और मध्यप्रदेश के सामाजिक न्याय विभाग द्वारा बुजुर्गों के कल्याण के लिए किए गए कार्यों की जानकारी दी।

उल्लेखनीय है कि राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने नई दिल्ली में अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस पर मध्यप्रदेश सरकार को माता-पिता और वरिष्ठ नागरिक भरण-पोषण कल्याण अधिनियम 2007 के क्रियान्वयन तथा वरिष्ठ नागरिकों को सेवाएँ एवं सुविधाएँ प्रदान करने के क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ राज्य का पुरस्कार प्रदान किया था। राज्य शासन की ओर से यह प्रतिष्ठित पुरस्कार सामाजिक न्याय विभाग के सचिव वी.के. बाथम ने प्राप्त किया। प्रदेश में माता-पिता और वरिष्ठ नागरिक भरण-पोषण एवं कल्याण अधिनियम 2007 के क्रियान्वयन के लिए मध्यप्रदेश में 2009 में नियम बनाकर इसे लागू किया गया। इसके लिए प्रदेश में 352 उपखण्ड, अधिकरण और कलेक्टर की अध्यक्षता में 50 अपीलीय अधिकरण जिलों में बनाए गए। इसी के साथ मध्यप्रदेश में वृद्धाश्रम संचालित किए जा रहे हैं। बुजुर्गों को शतायु होने पर 1000 रुपए और शाल-श्रीफल देकर सम्मानित किया जाता है। मध्यप्रदेश के इन कार्य की अन्य राज्यों ने भी प्रशंसा की है।

योजनाओं पर प्रभावी अमल हो

इस बीच मुख्य सचिव अंटोनी डि सा ने सामाजिक न्याय विभाग की योजनाओं का लाभ अधिक से अधिक जरुरतमंद हितग्राहियों को दिलवाने के निर्देश दिए है। उन्होंने विभाग की बैठक में अभिनव योजनाओं के क्रियान्वयन स्तर को और श्रेष्ठ बनाने के लिए भी निर्देशित किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here