मध्यप्रदेश में उद्योग और रोजगार के अवसर बढ़ेंगे: मुख्‍यमंत्री

भोपाल, जनवरी 2013/ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मध्यप्रदेश में औद्योगिक परिदृश्य बदलेगा और रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। प्रत्येक गाँव से छोटे-बड़े व्यवसाय एवं उद्योग-धंधों के लिये युवा आगे आएं।

श्री चौहान दमोह जिले के संग्रामपुर और जबेरा में जन-समुदाय को संबोधित करते हुए श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार ने युवाओं को उद्योग-व्यवसाय के लिये 50 हजार से 25 लाख रुपये तक का बैंक ऋण दिलवाने की योजनाएँ शुरू की हैं। इन योजनाओं में मार्जिन-मनी सरकार द्वारा जमा करने, बैंक गारंटी और ब्याज अनुदान देने का प्रावधान किया गया है। युवाओं को कौशल विकास के लिये प्रशिक्षण दिया जायेगा। इस वर्ष मई से हर गाँव में 24 घंटे बिजली मिलेगी, जिससे गाँव-गाँव में उद्योग-धंधे चलेंगे। उच्च शिक्षा और तकनीकी शिक्षा के लिये भी युवाओं को ऋण मिलेगा, जिसकी बैंक गारंटी सरकार लेगी।

श्री चौहान ने जबेरा को नगर पंचायत घोषित करने संबंधी कार्यवाही का आश्वासन दिया। संग्रामपुर में तालाब निर्माण के लिये कलेक्टर को निर्देश दिये। मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों से चर्चा की और योजनाओं के क्रियान्वयन के संबंध में उनकी राय और सुझाव प्राप्त किये।

मुख्यमंत्री ने पतलोनी के ग्रामीणों से निभाया वादा

मुख्यमंत्री ने शनिवार को दमोह जिले की यात्रा के दौरान ग्राम पतलोनी के ग्रामीणों से मिलकर अपना वादा निभाया। मुख्यमंत्री उप चुनाव के पहले इस गाँव में गये थे। उन्होंने ग्रामीणों से कहा था कि वे शीघ्र ही दोबारा वहाँ आयेंगे। मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों से कहा कि राज्य सरकार किसानों के हित में निरंतर काम कर रही है। केन्द्र सरकार से गेहूँ का समर्थन मूल्य 1600 रुपये प्रति क्विंटल करने का अनुरोध किया गया है। उन्होंने ग्राम पतलोनी की समस्याओं के समाधान के निर्देश दिये। गाँव में हाई स्कूल खोलने का आश्वासन भी दिया। पतलोनी में आयुर्वेदिक औषधालय भवन निर्माण की भी घोषणा की। पेंशन भुगतान के संबंध में फरवरी में गाँव में शिविर लगाने के निर्देश दिये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here