मध्यप्रदेश में पहली बार बनेगी फोटोयुक्त मतदाता-सूची

भोपाल, सितंबर 2013/ मध्यप्रदेश में इस साल होने जा रहे विधानसभा के आम चुनाव में पहली बार फोटोयुक्त मतदाता-सूची का इस्तेमाल होगा। फोटोयुक्त मतदाता-सूची तैयार करने के लिये मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय ने व्यापक स्तर पर तैयारियाँ करवाई हैं। यह जानकारी राष्ट्रीय-स्तर पर मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों को मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में आयोजित बैठक में दी गई।

बैठक में संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी एस.एस. बंसल ने बताया कि मतदाता-सूची को पूर्णत: शुद्ध एवं पारदर्शी बनाया गया है। मतदाता-सूची में 15 जनवरी, 2013 की स्थिति में 52 हजार 30 डुप्लीकेट मतदाता थे, जिनमें से 17 सितम्बर की स्थिति में 20 हजार 328 डुप्लीकेट मतदाता शेष बचे हैं, जिन पर कार्रवाई की जाना है। इसी तरह 15 जनवरी, 2013 की स्थिति में 9 लाख 8 हजार 726 डुप्लीकेट आई.डी. कार्ड थे, जिनमें अब मात्र 18 हजार 621 ऐसे डुप्लीकेट कार्ड ही शेष बचे हैं, जिनमें से एक कार्ड को निरस्त किया जाना है। इसी प्रकार मतदाता-सूची में पूर्व में 3 लाख 14 हजार 663 मतदाताओं की फोटो नहीं थी, इस दिशा में तत्परता से कार्यवाही कर सूची में फोटो सम्मिलित की गई। अब मात्र 7,237 ही फोटो शामिल की जाना है। यह कार्य भी शीघ्र पूर्ण कर लिया जायेगा। मतदाता-सूची में नाम जोड़ने की प्रक्रिया नाम-निर्देशन पत्र दाखिल करने की अंतिम तिथि से आठ दिन पहले तक जारी रहेगी। श्री बंसल ने बताया कि इस बैठक को आयोजित करने का उद्देश्य राजनैतिक दलों को मतदाता-सूची में डुप्लीकेट मतादाताओं के संबंध में की गई कार्रवाई से अवगत कराने का है।

इस अवसर पर भारतीय जनता पार्टी के प्रतिनिधि शांतिलाल लोढ़ा, गोविंद आर्य, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के जे.पी. धनोपिया, कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इण्डिया के शैलेन्द्र कुमार शैली, नेशनल कांग्रेस पार्टी के राजू भटनागर और श्रीमती अनीशा कपलिश तथा उप मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्रीमती भारती ओगरे उपस्थित थीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here