मुख्यमंत्री ने आदिवासी बहुल मण्डला से की शहरी जन-दर्शन की शुरूआत

मंडला, नवंबर 2012/ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने दूसरे कार्यकाल के पहले शहरी जन-दर्शन कार्यक्रम की शुरूआत रविवार को आदिवासी बहुल क्षेत्र मण्डला से की। इस दौरान वे आम लोगों से घुल-मिल गये। उन्होंने लोगों से राज्य शासन की कल्याणकारी विशेषकर फ्लेगशिप योजनाओं और कार्यक्रमों के मैदानी स्तर पर अमल की जानकारी ली और उनकी समस्याओं को सुना। मुख्यमंत्री ने जन-दर्शन के दौरान प्रदेश की बहुप्रशंसित लाड़ली लक्ष्मी योजना से लाभान्वित लाड़लियों को भी दुलारा। जन-दर्शन के दौरान उनके साथ ग्रामीण विकास राज्य मंत्री देवसिंह सैयाम और राज्य सभा सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते भी थे।

जन-दर्शन के दौरान नगर की मुस्लिम पंचायत ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया। जिला पंचायत द्वारा उन्हें लड्डुओं से तौला गया। शहर के विभिन्न चौराहों पर अनेक समाज के लोगों ने मुख्यमंत्री का भव्य स्वागत किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में विकास और कल्याण की योजनाओं का पूरा लाभ समाज के सभी वर्गों को पहुँचाने की दिशा में कोई कसर नहीं छोड़ी जा रही है। लोग योजनाओं और कार्यक्रमों का पूरा लाभ लें। आम लोगों की शिकायतों का शीघ्र निराकरण करने के लिये अनेक ठोस कदम उठाये गये हैं।

उल्लेखनीय है कि अपने पिछले कार्यकाल में श्री चौहान ने वर्ष 2007 और 2008 में प्रदेशव्यापी जन-दर्शन कार्यक्रम किया था। इस दौरान बड़ी तादाद में लोगों की समस्याओं का समाधान करने के साथ ही उन्होंने विकास और कल्याण की योजनाओं के क्रियान्वयन की जमीनी हकीकत का जायजा लिया था।

प्रचार-रथ का शुभारंभ

मुख्यमंत्री ने जन-दर्शन की शुरूआत के पहले जनसंपर्क प्रचार-रथ का हरी झण्डी दिखाकर प्रदेशव्यापी शुभारंभ किया। जनसंपर्क विभाग के इस रथ के माध्यम से राज्य में चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं और कार्यक्रमों तथा उनसे लाभ लेने की प्रक्रियाओं के बारे में लोगों को सुरुचिपूर्ण ढंग से जानकारी दी जा रही है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here