मुख्यमंत्री ने किया स्वतंत्रता सेनानियों का सम्मान

सागर, जनवरी 2013/ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सागर में गणतंत्र दिवस समारोह में ध्वजारोहण किया, परेड की सलामी ली, वयोवृद्ध स्वतंत्रता सेनानियों का सम्मान किया, उत्कृष्ट कार्य करनेवालों को प्रशस्ति-पत्र दिए और बच्चों द्वारा प्रस्तुत कार्यक्रमों को देखा, पुरस्कार भी वितरित किए।

सागर के पीटीसी ग्राउंड में हुए समारोह में मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों के लिए अपने संदेश का वाचन किया। देश के लिए प्राणों की आहुति देने वाले बलिदानियों को श्रद्धांजलि दी। श्री चौहान ने प्रदेश में शांति व्यवस्था कायम रखने और डाकू उन्मूलन सहित आंतरिक सुरक्षा के क्षेत्र में बेहतर काम करने वाले पुलिस बल की सराहना की। कहा कि पुलिस बढ़ाने के लिए भर्ती प्रक्रिया जारी है और पुलिसकर्मियों को बेहतर आवास तथा स्वास्थ्य सुविधाएँ उपलब्ध करवाने की दिशा में ठोस प्रयास किए जा रहे हैं। होमगार्ड के जवान आंतरिक सुरक्षा में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करते हैं। होमगार्ड जवानों के परिश्रमिक बढ़ाने की घोषणा की और कहा कि इसके आदेश शीघ्र जारी हो जायेंगे।

मुख्यमंत्री ने सिहोरा क्षेत्र में बदमाश को पकड़ते हुए शहीद हुए एक होमगार्ड जवान शिवराज सिंह लोधी के परिवार को 10 लाख रुपये की सम्मान राशि की घोषणा की। उन्होंने कहा कि शहीद के एक बेटे को अनुकंपा नियुक्ति दी जायेगी

सांस्कृतिक प्रस्तुतियाँ

समारोह में शहर स्कूली छात्र-छात्राओं द्वारा प्रस्तुत पी.टी., व्यायाम तथा सांस्कृतिक प्रस्तुतियाँ देकर मुख्यमंत्री प्रफुल्लित हो गये। उन्होंने पी.टी. और व्यायाम प्रदर्शन में भाग लेने वाले बच्चों के स्कूलों में प्रत्येक को 5-5 लाख रुपये का अतिरिक्त पुरस्कार देने की घोषण की। जिन स्कूलों के बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम किए और बेंड प्रदर्शित किए उन स्कूलों को भी 5-5 लाख रुपये के पुरस्कार की घोषणा की। एनसीसी और स्काउट ट्रुप की सराहना करते हुए उनके लिए भी 5-5 लाख रुपये का पुरस्कार घोषित किया। परेड में उल्‍लेखनीय प्रदर्शन के लिए पुलिस ट्रेनिंग कॉलेज सागर को प्रथम और जेएनटीसी महिला को द्वितीय पुरस्कार मिला। निःशस्त्र बलों में एनसीसी सीनियर डिवीजन बालिका को प्रथम और एनसीसी सीनियर डिवीजन बॉयज को द्वितीय स्थान मिला। केन्द्रीय जेल सागर की झाँकी को प्रथम और जिला पंचायत की झाँकी को द्वितीय स्थान मिला।

प्रशस्ति-पत्र

मुख्यमंत्री ने श्रेष्ठ कार्य करने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों को समारोह में प्रशस्ति-पत्र भेंट किए। जनगणना-2011 में श्रेष्ठ कार्य करने वाले तत्कालीन अपर कलेक्टर राजेश कौल, एसडीएम दिलीप मंडावी, नायब सूबेदार बहादुर सिंह और तहसीलदार गोपाल सिंह वर्मा को प्रशस्ति-पत्र मिले।

स्वतंत्रता सेनानियों का सम्मान

मुख्यमंत्री ने समारोह में वयोवृद्ध स्वतंत्रता सेनानियों के पास पहुँचकर उनका सम्मान किया। उन्होंने मीसाबंदियों को भी सम्मानित किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here