मुख्य सचिव ने नागरिकों से की मुलाकात

भोपाल, जुलाई 2014/ मुख्य सचिव अंटोनी डिसा ने मंत्रालय में नागरिकों की विभिन्न समस्या का समाधान करवाया। जनता से साप्ताहिक भेंट में मुख्य सचिव ने नागरिकों के अतिक्रमण, अनुकंपा नियुक्ति, जमीन का कब्जा और राहत राशि संबंधी आवेदनों पर कार्रवाई के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए।

मुख्य सचिव ने भोपाल निवासी श्रीमती अरुणा अवधेश शर्मा द्वारा दिए गए आवेदन पर लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग को कार्रवाई के निर्देश दिए। श्रीमती शर्मा ने गत सात वर्ष से पति के लापता होने से निराश होकर अब उन्हें मृत मानते हुए पुत्र को अनुकंपा नियुक्ति दिलवाने का अनुरोध किया। सीहोर जिले की श्रीमती शंकुतला पुरोहित ने अपने आवेदन में बताया कि वर्ष 1908 से उनके परिवार के स्वामित्व के मकान को बिना पूर्व सूचना के तोड़ दिया गया जिससे घरेलू सामग्री नष्ट हो गई है। यही नहीं भूमि पर कब्जा भी कर लिया गया है। मुख्य सचिव ने कलेक्टर सीहोर को दो सप्ताह में मामले का निराकरण करने के निर्देश दिए। भोपाल निवासी श्री सैयद आफताब अली ने गृह निर्माण समिति द्वारा भूखंड का कब्जा न देने की शिकायत की। प्रकरण में मुख्य सचिव ने एक माह में कार्रवाई के निर्देश दिए। इसी तरह पन्ना जिला निवासी श्री सीताराम उपाध्याय ने कुछ लोगों द्वारा जमीन पर कब्जा किए जाने की समस्या से अवगत करवाया। प्रकरण में कलेक्टर पन्ना को एक माह में कार्रवाई के लिये कहा गया।

गुना जिले के मधुसूदनगढ़ के 21 आवेदकों ने संयुक्त आवेदन-पत्र देकर चरनोई भूमि को आबादी में बदलने की मांग की। यह आवेदन कलेक्टर गुना को कार्रवाई के लिए भेजकर निराकरण के लिए एक माह सीमा तय की गई। शाजापुर जिले की श्रीमती संगीता जैन ने अपने भाई पर झूठा आपराधिक प्रकरण दर्ज किए जाने की समस्या से अवगत करवाया। मुख्य सचिव ने पुलिस अधीक्षक को कार्रवाई के निर्देश दिए। होशंगाबाद जिले के श्री मलखान राजपूत ने ओला वृष्टि से फसल नष्ट होने पर पात्रतानुसार राहत राशि न मिलने की ओर ध्यान आकर्षित करने पर कलेक्टर होशंगाबाद को कार्रवाई के निर्देश दिए गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here