मुख्‍यमंत्री ने की 24 घंटे बिजली देने के नये युग की शुरुआत

जबलपुर, जनवरी 2013/ मध्यप्रदेश के गाँवों में 24 घंटे बिजली देने के नये युग की शुरूआत आज जबलपुर से शुरू हुई। जिले में फीडर विभाजन का काम पूरा होने के साथ सभी 1352 गाँव को आज से 24 घंटे बिजली मिलने लगी है। इन गाँव में किसानों को आठ घंटे बिना रूकावट के बिजली मिलेगी। इस अभियान में इसी वर्ष प्रदेश के सभी गाँव शामिल होंगे। जबलपुर के अलावा चरणबद्ध रूप से फीडर विभाजन कर यह सुविधा प्रदेश के सभी जिलों में उपलब्ध हो जायेगी।

मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय के प्रांगण में विशाल जन-समूह को संबोधित करते हुए कहा कि 24 घंटे बिजली उपलब्ध करवाने का असंभव जैसा लगने वाला कार्य संभव कर दिखाया है। जबलपुर से हुई इस शुरूआत का पूरे प्रदेश के गाँवों में विस्तार होगा। राज्य सरकार प्रदेश में बिजली कटौती से मुक्ति देने के लिये संकल्पबद्ध है। फीडर विभाजन सहित इस अभियान के विभिन्न कार्यों में 12 हजार करोड़ रूपये खर्च होंगे। मध्यप्रदेश को किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं रहने देंगे। मध्यप्रदेश बीमारू राज्य की श्रेणी से तो पहले ही निकल चुका है और यह तेजी से प्रगति करने वाले राज्यों में शामिल है।

श्री चौहान ने राष्ट्रपति से प्रदेश को मिले कृषि कर्मण  पुरस्कार की चर्चा करते हुए कहा कि केन्द्र ने भी प्रदेश की प्रगति की सराहना की है। मध्यप्रदेश को देश में सबसे ज्यादा खाद्यान्न उगाने वाला राज्य बनाने का श्रेय किसानों को देते हुए कहा कि किसानों की समृ़द्धि के बिना देश और प्रदेश की प्रगति नहीं हो सकती और न ही व्यापार चल सकता है। किसानों की तरक्की के लिये सिंचाई के रकबे को बढ़ाकर 21 लाख हेक्टेयर किया गया है। इसे अगले साल बढ़ाकर 24 लाख हेक्टेयर कर दिया जायेगा। बरगी का पानी गंगा बेसिन में ले जाने का अभियान चलाया जायेगा। सिंचाई की योजनाओं से प्रदेश में अंतिम छोर तक सिंचाई की जायेगी। उन्होंने किसानों के हित में केन्द्र सरकार से गेहूँ का समर्थन मूल्य 1600 रूपये करने की मांग की।

श्री चौहान ने ग्रामीण युवाओं का आव्हान किया कि वे बिजली की उपलब्धता का लाभ उठाते हुए गाँवों में छोटे-छोटे उद्योग स्थापित करें। पचास हजार तक के छोटे रोजगार स्थापित करने पर मार्जिन मनी राज्य सरकार द्वारा दी जायेगी। महिलाओं और बेटियों का अपमान करने वालों को कड़ी सजा मिलेगी। उनका डाटा बेस बनाया जायेगा और उन्हें सरकारी सुविधाओं, नौकरी से वंचित कर दिया जायेगा। उन्होंने लोगों से माँ-बेटियों का अपमान करने वालों का समाजिक बहिष्कार करने का आव्हान किया।

युवाओं के लिये माँ तुझे प्रणाम  योजना की चर्चा करते हुए कहा कि राज्य सरकार शहीदों के परिवार के साथ है। युवाओं को मातृभूमि के प्रति सम्मान जाग्रत करने के लिये सरहद दर्शन करवाने की अनूठी पहल सरकार करने जा रही है।

श्री चौहान ने ऊर्जा विभाग और वितरण कंपनी के अधिकारियों को बधाई देते हुए कहा कि 24 घंटे अबाध विद्युत वितरण के लिये व्यवस्था को और अधिक सुचारू बनाने के लिये सतर्क और सजग रहें। उन्होंने उपभोक्ताओं से विद्युत उपलब्धता का न्यायसंगत उपयोग और बिजली चोरी जैसी घटनाओं को रोकने में सरकार की मदद करने को कहा।

यह है अटल ज्योति अभियान

खेती के लिये 6262 फीडर।

43,571 गाँव में 11 किलोवाट के फीडर।

71,688 किलोमीटर 11 किलोवाट विद्युत लाइनों का निर्माण।

किलोवाट के 71,516 वितरण ट्रांसफार्मर।

60,826 किलोमीटर निम्न दाब लाइनों का केबल।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here