मेधावी बच्चों को रोल मॉडल बनाया जायेगा

भोपाल, जनवरी 2013/ आदिम-जाति कल्याण मंत्री कुँवर विजय शाह ने कहा है कि प्रदेश सरकार ने अनुसूचित-जाति एवं जनजाति वर्ग की भलाई के लिये अनेक योजनाएँ शुरू की हैं। इन वर्ग के प्रतिभाशाली बच्चों को कैरियर बनाने के भरपूर अवसर दिये जायेंगे। उन्होंने कहा कि जो बच्चे विदेश जाकर उच्च अध्ययन प्राप्त करना चाहते हैं, उन्हें सरकारी खर्च पर विदेश भेजा जायेगा। मंत्री कुँवर शाह आज विभागीय 5 दिवसीय नेतृत्व विकास शिविर को संबोधित कर रहे थे। समारोह में बोर्ड की कक्षा 10 एवं 12वीं की परीक्षा में सर्वोच्च अंक प्राप्त करने वाले बच्चों को पुरस्कृत किया गया। शिविर में प्रदेश भर से चयनित 230 बच्चे भाग ले रहे हैं। कार्यक्रम में अनुसूचित-जाति कल्याण राज्य मंत्री श्री हरिशंकर खटीक भी मौजूद थे।

मंत्री ने कहा कि अनुसूचित जाति-जनजाति वर्ग के प्रदेश के विद्यार्थी भारतीय प्रशासनिक सेवा में आ सकें, इसके लिये राज्य सरकार ने नई दिल्ली स्थित प्रतिष्ठित कोचिंग संस्थान में निःशुल्क कोचिंग दिलाये जाने का निर्णय लिया है। इसका पूरा खर्च राज्य सरकार वहन करेगी। प्रदेश में अनुसूचित जाति-जनजाति वर्ग के 50 से अधिक विद्यार्थियों को उच्च अध्ययन के लिये विदेश भेजा जा चुका है। उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि वे बेहिचक विज्ञान संकाय लें। उन्हें विभाग की ओर से हर-संभव मदद दी जायेगी।

अनुसूचित-जाति कल्याण राज्य मंत्री हरिशंकर खटीक ने कहा कि बोर्ड की परीक्षा में सर्वोच्च अंक अनुसूचित जाति-जनजाति वर्ग के प्राप्त करने वाले बच्चों को विभाग रोल-मॉडल के रूप में प्रस्तुत करेगा, जिससे अन्य बच्चे भी प्रेरणा ले सकें। नेतृत्व विकास शिविर में कक्षा 10 में जिन विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया गया, उनमें बड़वानी के विशाल सेंगर ने 98.83, बैतूल के सोनू सिरसाम ने 93.33 एवं बड़वानी के वीरेन्द्र सेनानी ने 93.16 प्रतिशत अंक हासिल किये। कक्षा 12 में छिंदवाड़ा के विशाल उइके ने 94 प्रतिशत, बड़वानी के बबन भावेल और अनिल रावत ने 90.2 प्रतिशत एवं बालाघाट के सत्यभान कुमार ने 89.6 प्रतिशत अंक प्राप्त किये। बालिका वर्ग में कक्षा 10 में शहडोल की कु. वैभवश्री लारिया ने 95, सिवनी की कु. अंकिता ने 93.5 एवं बड़वानी की कु. नीतू भगत ने 91.83 प्रतिशत अंक प्राप्त किये। कक्षा 12 में झाबुआ की कु. मीनाक्षी मेदा ने 92.2, देवास की कु. नीलिमा अनारे एवं बड़वानी की कु. अर्चना बर्डे ने 75.17 प्रतिशत अंक प्राप्त किये।

शिविर अवधि में प्रतिभाशाली बच्चों की राज्यपाल, मुख्यमंत्री, मुख्य सचिव, महानिदेशक पुलिस से भी भेंट करवायी जायेगी। शिविरार्थी बच्चे भोपाल में राज्य-स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह में भी शामिल होंगे। इन बच्चों को विभिन्न विषय के विशेषज्ञ कैरियर निर्माण के संबंध में व्याख्यान भी देंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here