राज्‍यपाल ने दिए स्‍काउट एवं गाइड के अलंकरण

भोपाल, नवंबर 2012/ राज्यपाल राम नरेश यादव ने कहा है कि दूसरों के दुख-दर्द के प्रति संवेदनशीलता और पीड़ित व्यक्तियों की निःस्वार्थ सेवा की भावना को अपने आचरण का हिस्सा बनाना प्रत्येक मनुष्य की प्राथमिकता होना चाहिए। प्रत्येक व्यक्ति सामाजिक एवं राष्ट्रीय परिदृश्य के अनुरूप स्वयं को ढालने का प्रयास करे। राज्यपाल यहाँ भारत स्काउट एवं गाइड के राज्य प्रशिक्षण केन्द्र में २२वीं स्काउट-गाइड रैली और राज्य अलंकरण समारोह को संबोधित कर रहे थे। राज्यपाल ने यहाँ प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया।

श्री यादव ने कहा कि स्काउट-गाइड संगठन का सराहनीय और गौरवमयी इतिहास रहा है। संगठन के सदस्य निःस्वार्थ भाव से मानव-सेवा के पथ पर निरंतर सक्रिय हैं। यह पूरे समाज के लिए प्रेरणा की बात है। उन्होंने कहा कि संगठन ने सामाजिक सरोकारों के विभिन्न क्षेत्रों में बहुत लगन और परिश्रम से कार्य किया है। उन्होंने संगठन सदस्यों से कहा कि वे मानव-सेवा के कार्यों को नई दिशा और नई सोच देने के लिए कार्य करें। सदस्यों को समाज के सभी वर्ग से जुड़कर देश के विकास में सहभागी बनना होगा।

इस अवसर पर उत्कृष्ट सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए गुरु नानक मिशन कन्या विद्यालय, जबलपुर की छात्रा कु. सोनिका सिंह को राज्यपाल श्री यादव ने दो हजार का नगद पुरस्कार दिये जाने की घोषणा की। कु. सोनिका सिंह ने एक नृत्य नाटिका में दुर्गा की भूमिका का उत्कृष्ट निर्वहन किया था।

समारोह में श्री यादव ने सेवा और सामुदायिक कार्यों के साथ-साथ स्काउट-गाइड कलाओं में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले १८१ स्काउट और ११७ गाईड को राज्य पुरस्कार प्रमाण-पत्र से अलंकृत किया। इसके अलावा उन्होंने श्री एल.एन. शर्मा झाबुआ और श्री डी.पी. मिश्रा भोपाल को मेडल आफ मेरिट से अलंकृत किया। साथ ही जिला स्तरीय स्टेट चीफ कमिश्नर प्रतियोगिता ने स्काउट वर्ग में छिंदवाड़ा जिले को प्रथम, ग्वालियर को द्वितीय और धार जिले को तृतीय पुरस्कार दिया गया। इसी क्रम में गाइड वर्ग में छिंदवाड़ा को प्रथम, गुना को द्वितीय और ग्वालियर को तृतीय पुरस्कार दिया गया। वर्ष २०११-१२ के आदर्श दल प्रोत्साहन पुरस्कार के तहत स्काउट वर्ग में शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, गिजवार को प्रथम और शासकीय माध्यमिक विद्यालय बावड़िया जिला देवास को द्वितीय पुरस्कार दिया गया। गाइड वर्ग में शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय क्रमांक-२ देवास को प्रथम, शासकीय माध्यमिक विद्यालय गिजवार को द्वितीय और शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, राणापुर, झाबुआ को तृतीय पुरस्कार दिया गया। बुलबुल वर्ग में शासकीय कन्या प्राथमिक विद्यालय मामा का बाजार ग्वालियर को द्वितीय पुरस्कार दिया गया।

पूर्व में संगठन के राज्य आयुक्त राहुल कोठारी ने स्वागत भाषण देते हुए कहा कि हमारे संगठन ने अपने सेवा कार्यों से विश्व के १५० देश में अपनी पहचान बना ली है। संगठन के राज्य उपाध्यक्ष कैलाश मिश्रा ने आभार प्रदर्शन किया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here