रितु चौहान को लेकर कांग्रेस फिर आक्रामक

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की भांजी रितु चौहान के एमपीपीएसी में हुए चयन पर कांग्रेस फिर आक्रामक हो गई है। नेता प्रतिपक्ष सत्‍यदेव कटारे ने आरोप लगाया है कि 2009 में रितु चौहान ने सीएम हाउस में बैठ कर परीक्षा दी थी। यह सनसनीखेज आरोप लगाते हुए कटारे ने कुछ दस्तावेज भी मीडिया को जारी किए। उन्होंने पीएससी के पूर्व चेयरमैन प्रदीप जोशी को लेकर भी सवाल खड़े किए और कहा कि जोशी की नियुक्ति आरएसएस के प्रचारक विनोद की सिफारिश पर हुई थी। नियुक्ति पहले हुई, उसे कैबिनेट में मंजूरी बाद में मिली। जोशी ने मुख्यमंत्री निवास में बैठकर रितु चौहान को परीक्षा दिलवाई। आवेदन में आय प्रमाण का कॉलम खाली छोड़ने पर रितु का आवेदन निरस्‍त हो जाना चाहिए था लेकिन उन्‍हें नियम के खिलाफ परीक्षा देने दी गई। इस मामले को लेकर कांग्रेस के सदस्‍यों ने विधानसभा में भी हंगामा किया। उल्‍लेखनीय है कि मप्र लोकसेवा आयोग रितु चौहान के चयन को सही ठहरा चुका है। आयोग ने इस मामले में अपनी वेबसाइट पर दस्तावेज जारी किए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here