विकास में कोई कमी नहीं रखी जाएगी: शिवराज

सीहोर, जनवरी 2013/ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने गृह जिले सीहोर के विभिन्न ग्रामों का भ्रमण किया और विभिन्न कार्यक्रमों में भाग लिया। मुख्यमंत्री ने जिले के अपने दो-दिवसीय भ्रमण के दौरान अनेक विकास कार्य को मंजूर किया।

मुख्यमंत्री ने ग्राम चकल्दी में वनवासी सम्मेलन में 112 किसान को वन अधिकार-पत्र एवं खसरे की निःशुल्क प्रमाणित प्रति प्रदान की। 2,966 तेन्दूपत्ता संग्राहक को 35 लाख 32 हजार से अधिक की बोनस राशि तथा गाँव के विकास और लाभार्थी हितग्राहियों की संपूर्ण जानकारी पर केन्द्रित पुस्तिका ’विकास दर्पण’ का वन ग्रामों के सरपंचों को वितरण किया। चकल्दी में आई टी आई और प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र प्रारंभ करने के लिए ग्रामीणों को आश्वस्त किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री की धर्मपत्नी साधना सिंह, आदिम-जाति कल्याण एवं सीहोर जिला प्रभारी मंत्री कुँवर विजय शाह सहित स्थानीय जन-प्रतिनिधि, जिला अधिकारी और बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।

मुख्यमंत्री ने राज्य सरकार की जनहितैषी योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि समाज के प्रत्येक वर्ग के लिए अनेक कल्याणकारी योजनाएँ संचालित की जा रही हैं। उन्होंने मर्यादा अभियान में ग्रामीणों की सक्रिय भागीदारी की जरूरत बताते हुए गाँव की स्वच्छता और विकास में सहयोग के लिए प्रेरित किया। ग्रामीणों को बेटी और बेटे के बीच फर्क नहीं करने, बच्चों को स्कूल भेजने, नशे से दूर रहने, सद्भाव का माहौल बनाकर गाँव का विकास करने की समझाइश देते हुए प्रदेश के सर्वांगीण विकास में सहयोग की ग्रामीणों को शपथ दिलाई। कहा कि प्रदेश के विकास में कोई कमी बाकी नहीं रखी जाएगी।

प्रभारी मंत्री कुँवर विजय शाह ने आदिवासियों के हित में प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की विस्तार से जानकारी दी। वन विकास निगम के अध्यक्ष गुरू प्रसाद शर्मा, हाउसिंग बोर्ड के अध्यक्ष रामपाल सिंह, वेयर हाउसिंग कार्पोरेशन के अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह राजपूत, मार्कफेड अध्यक्ष रमाकांत भार्गव, जिला पंचायत अध्यक्ष धर्मेन्द्र सिंह चौहान, नगर पंचायत अध्यक्ष द्वारका प्रसाद अग्रवाल सहित स्थानीय जन-प्रतिनिधि एवं बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।

लोकार्पण

मुख्यमंत्री देर शाम ग्राम छीपानेर पहुँचे और धूनीवाले बाबा के समाधि-स्थल पर सपत्नीक पूर्जा-अर्चना की। भक्त-निवास का लोकार्पण भी किया। कहा कि राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि अस्पताल में निःशुल्क दवा वितरण के अलावा अब विभिन्न प्रकार की जाँच निःशुल्क की जाएँगी। छीपानेर में इंटेक वेल एवं वाटर ट्रीटमेन्ट प्लांट का निर्माण कर नारायणपुर, इटारसी, बगवाड़ा, बड़नगर, ससली सहित एक दर्जन गाँव में पेयजल आपूर्ति की जाएगी। उन्होंने ग्राम छीपानेर में खेल मैदान, ग्राम इटावा और बड़नगर के प्राथमिक स्कूलों का मिडिल स्कूल में उन्नयन तथा ग्राम बोरखेड़ाकलां में हाई स्कूल को हायर सेकण्डरी स्कूल में उन्नयन करने की मंजूरी दी। ग्राम रिछाड़िया कदीम में तालाब को गहरा कर सुंदर बनाने के निर्देश दिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here